Sat. Jul 2nd, 2022
अगले महीने होगी 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी, सरकार को मिलेंगे करीब 1 लाख करोड़

अगले महीने होगी 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी.

माना जा रहा है कि जुलाई के आखिरी सप्ताह में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी होगी. रिपोर्ट्स के मुताबिक, सरकार इस नीलामी के जरिए 80 हजार से 1 लाख करोड़ रुपए इकट्ठा कर सकती है.

अगले महीने 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी (5G spectrum auction) होने वाली है. माना जा रहा है कि इसके जरिए सरकार 1 लाख करोड़ रुपए का फंड इकट्ठा करेगी. इस नीलामी की प्रक्रिया में 72 गीगाहर्ट्ज के स्पेक्ट्रम को शामिल किया जाएगा जिसकी वैलिडिटी 20 सालों की होगी. हालांकि, IIFL सिक्यॉरिटीज का मानना है कि ज्यादातर स्पेक्ट्रम नहीं बिकेगा. उसके मुताबिक, एयरटेल, जियो और वोडाफोन आइडिया मिलकर 71 हजार करोड़ रुपए का ही स्पेक्ट्रम खरीदेगी. माना जा रहा है कि अगले महीने 26 तारीख को स्पेक्ट्रम की नीलामी (5G auction) शुरू की जाएगी. टेक्नोलॉजी की बात करें तो 5जी स्पेक्ट्रम की स्पीड 4जी के मुकाबले 10 गुना होगी.

इस नीलामी की प्रक्रिया में लो स्पेक्ट्रम के तहत 600 MHz, 700 MHz, 800 MHz, 900 MHz, 1800 MHz, 2100 MHz, 2300 MHz की नीलामी होगी. मीडियम लेवल में 3300 मेगा हर्ट्ज की नीलामी होगी. वहीं, हाई फ्रिक्वेंसी बैंड में 26000 मेगा हर्ट्ज फ्रिक्वेंसी बैंड की नीलामी होगी. सीएनबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, मिड रेंज में डिमांड अच्छी है.

5जी का बाजार बहुत तेजी विकसित होगा

टेलीकॉम कंपनियों को राहत देते हुए सरकार ने हाल ही में जीरो स्पेक्ट्रम यूजेज चार्ज (SUC) का फैसला किया है. अब टेलीकॉम कंपनियों को अपफ्रंट पेमेंट नहीं करना होगा. टेलीकॉम हार्डवेयर कंपनी एरिक्शन की रिपोर्ट के मुताबिक, अगले पांच सालों में 2027 तक तक देश के 40 परसेंट सब्सक्राइबर्स 5जी नेटवर्क का इस्तेमाल करेंगे. इसके अलावा 56 परसेंट मोबाइल ट्रैफिक 5जी नेटवर्क द्वारा वहन किया जाएगा.

ये भी पढ़ें



SUC हटाने से टेलीकॉम कंपनियों को बड़ी राहत

स्पेक्ट्रम नीलामी से पहले सरकार ने स्पेक्ट्रम यूजेज चार्ज को हटा दिया है. इससे उनकी लागत घटेगी. 3 फीसदी के फ्लोर रेट को हटाने के कारण टेलीकॉम कंपनियां सालाना आधार पर 5400 करोड़ रुपए सेव करेंगी. अकेले भारतीय एयरटेल 2100 करोड़ की सालाना बचत करेगी. जियो 2300 करोड़ और वोडाफोन 1000 करोड़ रुपए सेव करेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.