Tue. Feb 7th, 2023
अवैध संबंधों का करता था विरोध, साली ने शराब में नशीला पदार्थ मिलकर पहले किया बेहोश फिर बहन के साथ किया जीजा का मर्डर

यूपी पुलिस (सांकेतिक तस्वीर)

Image Credit source: File Photo

बताया जा रहा है कि साली का गांव के ही छुचेला कला निवासी गुड्डू से अफेयर था और रूकसाद इसका विरोध करता था और वह अपनी साली पर नजर रख रहा था.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अमरोहा जिले में प्रेम प्रसंगों में बाधा बनने पर एक साली में अपने जीजा का मर्डर कर दिया. खास बात ये है कि इस हत्याकांड में आरोपी की बहन ने भी उसका साथ दिया. जानकारी के मुताबिक साली ने युवक के शराब में नशीला पदार्थ मिलाया और जब वह बेहोश हो गया तो उसका गला दबाकर उसकी हत्या कर दी गई. इस काम में आरोपी के प्रेमी ने भी साथ दिया. इसके बाद तीनों ने शव को बगीचे में ले जाकर दफना दिया. पुलिस (UP Police) ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

जानकारी के मुताबिक दो दिन बाद भी युवक के घर नहीं लौटने पर परिजनों को दोनों बहनों पर शक हुआऔर उन्होंने इस मामले की शिकायत पुलिस से की. पुलिस ने जब सख्ती ने दोनों बहनों से पूछताछ की तो उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया. इसके बाद पुलिस के साथ परिजन मौके पर पहुंची और जमीन से शव को निकाला गया. हत्या के आऱोप में पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया. जानकारी के मुताबिक ये मामला अमरोहा के ढाकिया चमन गांव का है और यहां 14 साल पहले बिजनौर के थाना धामपुर के निंदाडू गांव की रहने वाली शमीमा की शादी रूकसाद हुई थी. दोनों की कोई संतान नहीं है. शादी के कुछ देर बाद इसकी साली चांदनी भी आकर बहन के घर रहने लगी और उसकी शादी नहीं हुई थी.

साली का गांव के युवक से हुआ अफेयर

बताया जा रहा है कि साली का गांव के ही छुचेला कला निवासी गुड्डू से अफेयर था और रूकसाद इसका विरोध करता था और वह अपनी साली पर नजर रख रहा था. जिसके बाद नाराज चांदनी ने अपनी बहन के साथ मिलकर अपने जीजा को रास्ते से हटाने की साजिश रची. इसके बाद 26 जून को रूकसादको उसकी पत्नी और साली रिश्तेदार के यहां ले जाने के बहाने ले गए थे और बछरौन में आम के बाग में दोनों बहनों ने मिलकर युवक को शराब पिलाई और इसके बाद इसका गला दबाकर हत्या कर दी.

ये भी पढ़ें



बहन को रखना चाहती थी साथ

कोतवाली प्रभारी सुनील मलिक के अनुसार दोनों बहनों से पूछताछ की गई तो उन्होंने कबूल किया. पूछताछ में रूकसाद की पत्नी ने बताया कि वह अपनी बहन चांदनी को हमेशा के लिए अपने पास रखना चाहती थी. जबकि रूकसाद इसका विरोध करता था. इसके साथ ही वह चांदनी के मामले में दखल दे रहा था. जिसके बाद दोनों बहनों ने हत्या की साजिश रची.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *