Mon. Jan 30th, 2023
उत्तराखंड में आज से सिंगल यूज प्लास्टिक पूरी तरह से बैन, जानिए पकड़े जाने पर कितना लगेगा जुर्माना

उत्तराखंड में आज से सिंगल यूज प्लास्टिक पूरी तरह से बैन (सांकेतिक तस्वीर)

उत्तराखंड (Uttarakhand) के प्रमुख सचिव वन एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष आरके सुधांशु ने बताया कि जांच और जुर्माना तय करने के लिए अधिकारी भी तय कर दिए गए हैं.

उत्तराखंड में आज से सिंगल यूज प्लास्टिक (Single use plastic) पर पूरी तरह से प्रतिबंध लग गया है. आज से ही व्यक्तिगत उपयोग के लिए एकल-उपयोग प्लास्टिक उत्पादों का निर्माण करने वालों पर 100 रुपये से 5 लाख रुपये तक का जुर्माना लगाया जाएगा. वहीं इसके इस्तेमाल करने वालों पर जुर्माना लगाया जाएगा. उत्तराखंड (Uttarakhand) सरकार ने कहा कि एक बार जुर्माना लगने के बाद अगर कोई दूसरी बार पकड़ा जाता है तो जुर्माने की राशि दोगुनी होगी.

राज्य के प्रमुख सचिव वन एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष आरके सुधांशु ने बताया कि जांच और जुर्माना तय करने के लिए अधिकारी भी तय कर दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने सभी से अपील की कि कपड़े के थैलों का इस्तेमाल घरेलू सामान ले जाने के लिए करें. अगर वह ऐसा करते हैं तो इससे प्लास्टिक की खपत कम होगी और पॉलीथिन के बैग के उत्पादन नहीं होगा. उन्होंने कहा किरोजमर्रा की जिंदगी में पर्यावरण के अनुकूल सामग्री से बनी वस्तुओं का ही उपयोग करें. वहीं राज्य सरकार ने आज से सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ अभियान चलाते हुए सभी निकायों को चालान करने को कहा है.

सभी निकायों में लगा प्रतिबंध

राज्य के प्रभारी निदेशक नगर विकास अशोक पांडेय ने बताया कि सभी निकायों को प्रतिबंध का पालन करने के निर्देश दिए गए हैं. वहीं निदेशक पंचायती राज बंशीधर तिवारी ने भी सभी जिला पंचायतों को सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाने के लिए प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि कुछ निकायों में पहले से ही इस पर बैन लगा हुआ था और बाकी बचे निकायों में 28 जून तक इसे लागू कर दिया गया है. राज्य के सभी निकायों में अब सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लग गया है.

ये भी पढ़ें



जानिए किन उत्पादों पर लगा प्रतिबंध

राज्य सरकार के आदेश के मुताबिक कैरीबैग 75 माइक्रोन से पतले, 100 माइक्रोन से कम मोटे प्लास्टिक बैनर, थर्मोकोल सजावट, कप, प्लेट, गिलास, कांटे, चम्मच, स्ट्रॉ, ट्रे, प्लास्टिक के झंडे, कैंडी स्टिक, आइसक्रीम स्टिक, मिठाई कुंजी डिब्बे, सिगरेट के पैकेट की पैकेजिंग में उपयोग की जाने वाली फिल्मों पर प्रतिबंध लगाया गया है. इसके लिए राज्य सरकार ने 100 रुपये से लेकर पांच लाख रुपये तक का जुर्माना तय किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *