Sat. Jul 2nd, 2022
क्रिप्टोकरेंसी ने इस व्यक्ति को बनाया था दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक, अब घाटे के बाद छोड़ना पड़ा अपना देश

जनवरी में Zhao दुनिया के 10 सबसे अमीर लोगों में से एक थे.

इस साल के पहले कुछ महीनों के दौरान क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज Binance ने क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने का एक नया और कम जोखिम वाला तरीका पेश किया था. उसने अपने ग्राहकों से TerraUSD में निवेश करने की अपील की थी.

इस साल के पहले कुछ महीनों के दौरान क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) एक्सचेंज Binance ने क्रिप्टोकरेंसी में निवेश (Investment) करने का एक नया और कम जोखिम वाला तरीका पेश किया था. उसने अपने ग्राहकों से TerraUSD में निवेश करने की अपील की थी. इस टोकन को ट्रेड में स्टेबलकॉइन (Stablecoin) के तौर पर जाना जाता है. यह क्रिप्टोकरेंसी सेविंग्स अकाउंट (Savings Account) की तरह काम करती है और इसकी वैल्यू हमेशा एक डॉलर रहने का दावा किया जाता है. ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, Binance ने अलग-अलग क्रिप्टोकरेंसी में खरीदारी, बेचने और निवेश करने के लिए उसकी सेवा का इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों ने कहा था कि यह स्टेबलकॉइन कुछ खास पेश करता है. इसमें करीब 20 फीसदी का सालाना रिटर्न मिलने का दावा किया गया था. Binance ने ग्राहकों से कहा था कि TerraUSD सुरक्षित है और यह ज्यादा यील्ड भी देता है.

क्रिप्टो इंडस्ट्री को लगा था बड़ा झटका

लेकिन Terra न ही सुरक्षित साबित हुआ और न ही ज्यादा यील्ड वाला. इसके आलोचकों के मुताबिक, यह कॉइन एक फर्जी स्कीम थी, जिससे बिटकॉइन की कीमतों में बड़ी गिरावट आई और इस इंडस्ट्री की कंपनियों को ग्राहकों के विद्ड्रॉल को फ्रीज करने और कर्मचारियों की छंटनी करने के लिए मजबूर होना पड़ा. बिटकॉइन नवंबर की अपनी रिकॉर्ड ऊंचाई से करीब 70 फीसदी गिर चुका है.

यह निवेशकों के लिए बुरी खबर रही है. 16 मई को, कंपनी के चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर Changpeng Zhao ने Terra से संबंधित घाटे के स्तर का खुलासा किया था. कंपनी का स्टेक 1.6 अरब डॉलर पर था, लेकिन अब यह शून्य के करीब पहुंच गया है. लेकिन Zhao ने इसे लेकर कोई चेतावनी नहीं दी थी. उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था कि वे पैसे के बारे में ज्यादा चिंता नहीं करते हैं.

Binance अभी भी बेहद बड़ी कंपनी

जनवरी में Zhao दुनिया के 10 सबसे अमीर लोगों में से एक थे. उनकी नेटवर्थ में बिटकॉइन की कीमत के साथ गिरावट आई. ब्लूमबर्ग बिलिनेयर्स इंडैक्स के मुताबिक, उनकी नेटवर्थ 96 अरब डॉलर से घटकर 11 अरब डॉलर हो गई है. इसके बावजूद Binance क्रिप्टो में से बड़ी कंपनी बनी हुई है. कंपनी उसके बाद के चार एक्सचेंज के कुल जोड़ से ज्यादा ट्रांजैक्शन करती है. इसका मतलब है कि Zhao, जो कंपनी के सबसे बड़े शेयरधारक हैं, चाहे ग्राहक खरीद या बेच रहे हैं, उन्हें कमाई होती है. उन्होंने इंटरव्यू में कहा था कि कोई बेलआउट नहीं है. कोई केंद्रीय बैक नहीं है. सरकार का कोई दखल नहीं है. उनके मुताबिक, इतना भी ज्यादा बुरा हाल नहीं था.

ये भी पढ़ें



Zhao पिछले साल दुबई में चले गए हैं. उनका जन्म चीन में हुआ था. और फिर वे कनाडा के नागरिक बन गए थे. वे कुछ साल से ज्यादा किसी एक देश में नहीं रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.