Sat. Jul 2nd, 2022
'गुजरात दंगे को राजनीतिक चश्मे से देखा गया, पीएम मोदी के पीछे पड़ा था लेफ्ट गैंग'-रविशंकर प्रसाद

रविशंकर प्रसाद

Image Credit source: फाइल फोटो

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ फर्जी कैंपेन चलाया गया. गुजरात दंगा मामले की जांच यूपीए सरकार के कार्यकाल में हुई थी. उन्होंने कहा कि पीएम (PM Modi) पर जानबूझकर गलत आरोप लगाए गए.

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पटना में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि गुजरात दंगे (Gujarat Riots) को राजनीतिक चश्मे से देखा गया. पीएम मोदी पर जानबूझकर गलत आरोप लगाए गए. उन्होंने कहा कि लेफ्ट गैंग नरेंद्र मोदी के पीछे पड़ा था. लेकिन एसआईटी ने पीएम मोदी (PM Modi) को क्लीन चिट दे दी है. उन्होंने कहा कि इस मामले पर अब सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ गया है. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने भी माना है कि गुजरात दंगा ममाले पर जाकिया जाफरी की याचिका में कोई दम नहीं था.

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि जाकिया जाफरी ने केस किया था कि गुजरात दंगों में नरेंद्र मोदी की भूमिका की जांच हो. उन्होंने कहा कि जाकिया जाफरी के साफ तीस्ता सीतलवाड़ खड़ी थीं, उनका काम ही मोदी सरकार की खिलाफत करना है. इस माले में पूरा लेफ्ट गैंग नरेंद्र मोदी के पीछे पड़ा था. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी 12 साल गुजरात के सीएम रहे और 9 साल से देश के योग्य प्रधानमंत्री हैं. सात एजेंसियों ने इस मामले का जांच की. रवि शंकर प्रसाद ने लेफ्ट और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि जाकिया जाफरी को दोनों दलों का समर्थन मिला हुआ था.

खत्म हो पीएम के खिलाफ चल रहा षड्यंत्र-रविशंकर

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ फर्जी कैंपेन चलाया गया. गुजरात दंगा मामले की जांच यूपीए सरकार के कार्यकाल में हुई थी. उन्होंने कहा कि पीएम पर जानबूझकर गलत आरोप लगाए गए. सुप्रीम कोर्ट ने आज जाकिया जाफरी की याचिका खारिज कर दी है. पीएम को एसआईटी ने भी क्लीन चिट दी थी. उन्होंने कहा कि पीएम के खिलाफ साल 2001-2 से जो षड्यंत्र चल रहा है, वह अब खत्म होना चाहिए.

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की जाकिया जाफरी की याचिका

बता दें कि 2002 गुजरात दंगा मामले में पीएम मोदी को क्लीन चिट देने को चुनौती दिए जाने वाली याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने आज खारिज कर दिया. यह याचिका गुजरात दंगे में मारे गए कांग्रेस सांसद एहसान रहमानी की पत्नी जाकिया जाफरी ने दायर की थी. सुप्रीम कोर्ट ने यह कहते हुए याचिका को खारिज कर दिया कि सामूहिक हिंसा भड़काने और आपराधिक षडयंत्र संबंधी कोई भी संदेश सामने नहीं आया है. यह कहते हुए सर्वोच्च न्यायालय ने जाकिया जाफरी की याचिका को खारिज कर दिया.

ये भी पढ़ें



आज दो बड़ी विकास योजनाओं का लोकार्पण

रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उनके लोकसभा क्षेत्र में होने वाली विकास की बड़ी दो योजनाओं के लोकार्पण का भी जिक्र किया.उन्होंने कहा कि मीठापुर में ओवर ब्रिज बनकर तैयार हो गया है. अटल पथ बीघा सड़क को PMCH तक जोड़ने का काम पूरा हो गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.