Mon. Jan 30th, 2023
डबल सैलरी, ज्यादा भत्ते और बड़ा सा घर... महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को क्या-क्या मिलता है?

भारत में एक राज्य के मुख्यमंत्री के वेतन में मूल वेतन के साथ ही कई अन्य भत्ते होते हैं

Maharashtra CM Salary And Facilities: शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं. तो जानते हैं सीएम की सैलरी कितनी होती है और उन्हें क्या क्या सुविधाएं मिलती हैं.

देशभर में लंबे समय से एक चीज काफी चर्चा में है और वो है महाराष्ट्र के सीएम पद की कुर्सी. 10 दिन चले सियासी संग्राम के बाद अब सीएम कुर्सी को लेकर मची खलबली खत्म हो गई है. अब तय हो गया है कि शिवसेना के कई विधायकों को लेकर गायब हुए एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) प्रदेश के नए मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं. एकनाथ शिंदे बीजेपी के साथ सरकार बनाने जा रहे हैं और उनके इस मास्टरस्ट्रोक ने महाराष्ट्र की सत्ता का खेल ही पलट दिया है. अब एकनाथ शिंदे प्रदेश के मुख्यमंत्री होंगे, जिसके बाद उन्हें भी वो सुविधाएं मिलेंगी, जो कुछ दिन पहले तक उद्धव ठाकरे को मिल रही थी.

ऐसे में जानते हैं कि आखिर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को कितनी सुविधाएं मिलती हैं और उनकी कितनी सैलरी होती है. साथ ही जानते हैं कि आखिर उन्हें कितने तरह के भत्ते मिलते हैं और सैलरी को लेकर क्या नियम हैं…

कितनी होती है सीएम की सैलरी?

बता दें कि भारत में एक राज्य के मुख्यमंत्री के वेतन में मूल वेतन के साथ ही कई अन्य भत्ते होते हैं, जिसमें निर्वाचन क्षेत्र भत्ता, व्ययविषयक भत्ता (कर मुक्त) और दैनिक भत्ता सहित होता है. वहीं, भारतीय संविधान के अनुच्छेद 164 के अनुसार, देश में संबंधित राज्य विधायिकाओं द्वारा मुख्यमंत्री का वेतन तय किया जाता है. इस प्रकार यह एक राज्य से दूसरे राज्य में भिन्न होता है यानी हर राज्य के सीएम की सैलरी दूसरे राज्य के सीएम की सैलरी से अलग होता है.

अगर अब महाराष्ट्र के सीएम की सैलरी की बात करें तो उन्हें राज्य के अन्य सीएम की तुलना में काफी अच्छा पैसा मिलता है. सीएम की सैलरी के मामले में टॉप-5 राज्यों में भी महाराष्ट्र का नाम आता है और बताया जाता है कि महाराष्ट्र चौथा ऐसा राज्य है, जहां के मुख्यमंत्री को सबसे ज्यादा सैलरी मिलती है. यहां तक कि साल 2016 में जब सातवां वेतन आयोग आया तो यह पता चला था कि महाराष्ट्र के सीएम की सैलरी राष्ट्रपति से भी ज्यादा होती है.

राष्ट्रपति से भी ज्यादा थी सैलरी

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, 2016 में उस वक्त देवेंद्र फडणवीस महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री थे और उनकी सैलरी उस वक्त 2.25 लाख रुपये प्रति महीना से भी ज्यादा थी और उस वक्त राष्ट्रपति की सैलरी 1.5 लाख थी. अब राष्ट्रपति की सैलरी भी काफी ज्यादा हो गई है. वहीं, भारत के उपराष्ट्रपति की सैलरी भी 1.25 लाख रुपये थी. कई मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मगर वर्तमान परिस्थितियों की बात करें तो महाराष्ट्र सीएम की सैलरी वेतन 3.4 लाख हैं.

सैलरी के अलावा मिलती है विधायक की सैलरी

बता दें कि सीएम की सैलरी में एक विधायक की सैलरी भी जुड़ी रहती है. इसके अलावा वो तमाम भत्तों और सुविधाओं का हकदार भी होता है.

कई सुविधाएं भी मिलती हैं

सैलरी और एक विधायक की सैलरी के अलावा मुख्यमंत्री को चिकित्सा सुविधाएं, आवासीय सुविधाएं, विद्युत और फोन शुल्क की सुविधा तो मिलती ही है. साथ में यात्रा सुविधाएं और कई अन्य सुविधाएं शामिल हो सकती हैं. मुख्यमंत्री के लिए इन सुविधाओं में प्रत्येक की आवंटित राशि एक राज्य से दूसरे राज्य में भिन्न होती है. इसके साथ उनका घर भी अन्य मंत्रियों से काफी अलग होता है. वहीं, उन्हें सिक्योरिटी भी अन्य मंत्रियों के मुकाबले काफी ज्यादा मिलती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *