Tue. Feb 7th, 2023

यूरोप में प्लास्टिक बैग के इस्तेमाल पर अतिरिक्त टैक्स लागू है, जबकि अफ्रीकन कंट्रीज में पूरी तरह से बैन है. वहीं कई विकासशील देश आंशिक बैन लगाकर प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट की कोशिश कर रहे हैं.


Jul 01, 2022 | 4:30 PM

TV9 Hindi

| Edited By: निलेश कुमार

Jul 01, 2022 | 4:30 PM




Single Use Plastic Ban: भारत सरकार ने देश में सिंगल यूज प्लास्टिक पर बैन लगा दिया है. भारत से पहले कई देश सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगा चुके हैं. संयुक्त राष्ट्र के अुनसार दुनिया के 80 देशों में इस पर आंशिक या पूर्ण प्रतिबंध लागू है. यूरोप में प्लास्टिक बैग के इस्तेमाल पर अतिरिक्त टैक्स लागू है, जबकि अफ्रीकन कंट्रीज में पूरी तरह से बैन है. ऑस्‍ट्रेलिया के कैलिफोर्निया में 2014 से बैन लागू है. हालांकि कुछ चीजों पर छूट है. वहीं कई विकासशील देश आंशिक बैन लगाकर प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट की कोशिश कर रहे हैं. अलग-अलग देशों में अलग-अलग तरीके से बैन लगाया गया है.

Single Use Plastic Ban: भारत सरकार ने देश में सिंगल यूज प्लास्टिक पर बैन लगा दिया है. भारत से पहले कई देश सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगा चुके हैं. संयुक्त राष्ट्र के अुनसार दुनिया के 80 देशों में इस पर आंशिक या पूर्ण प्रतिबंध लागू है. यूरोप में प्लास्टिक बैग के इस्तेमाल पर अतिरिक्त टैक्स लागू है, जबकि अफ्रीकन कंट्रीज में पूरी तरह से बैन है. ऑस्‍ट्रेलिया के कैलिफोर्निया में 2014 से बैन लागू है. हालांकि कुछ चीजों पर छूट है. वहीं कई विकासशील देश आंशिक बैन लगाकर प्लास्टिक वेस्ट मैनेजमेंट की कोशिश कर रहे हैं. अलग-अलग देशों में अलग-अलग तरीके से बैन लगाया गया है.

सबसे पहले कहां लगाया गया प्रतिबंध? हमारे पड़ोसी देश बांग्लादेश में सबसे पहले सिंगल यूज प्लास्टिक पर बैन लगाया गया था. यहां 20 वर्ष पहले 2002 में प्लास्टिक बैग्स पर बैन लगाया गया था. इसके बाद दुनिया के अलग-अलग देशों ने भी इस पर बैन लगाना शुरू किया.

सबसे पहले कहां लगाया गया प्रतिबंध? हमारे पड़ोसी देश बांग्लादेश में सबसे पहले सिंगल यूज प्लास्टिक पर बैन लगाया गया था. यहां 20 वर्ष पहले 2002 में प्लास्टिक बैग्स पर बैन लगाया गया था. इसके बाद दुनिया के अलग-अलग देशों ने भी इस पर बैन लगाना शुरू किया.

चीन में क्या स्थिति है? हमारे एक अन्य पड़ोसी देश चीन ने वर्ष 2008 में प्लास्टिक के पॉलिथिन पर बैन लगाया था. यहां पहले पतली पॉलिथिन पर बैन लगाया गया था. वहीं 2020 में चीन ने घोषणा की थी कि वह धीरे-धीरे इस पर पूर्ण प्रतिबंध लगा देगा. फिलहाल चीन के कई बड़े शहरों में वैसे प्लास्टिक बैग्स पर बैन लगाया जा चुका है, जिन्हें डिकंपोज नहीं किया जा सकता.

चीन में क्या स्थिति है? हमारे एक अन्य पड़ोसी देश चीन ने वर्ष 2008 में प्लास्टिक के पॉलिथिन पर बैन लगाया था. यहां पहले पतली पॉलिथिन पर बैन लगाया गया था. वहीं 2020 में चीन ने घोषणा की थी कि वह धीरे-धीरे इस पर पूर्ण प्रतिबंध लगा देगा. फिलहाल चीन के कई बड़े शहरों में वैसे प्लास्टिक बैग्स पर बैन लगाया जा चुका है, जिन्हें डिकंपोज नहीं किया जा सकता.

अमेरिका में क्या स्थिति है? अमेरिका में सिंगल यूज प्लास्टिक पर पूर्ण प्रतिबंध नहीं है. वहां आंशिक तौर पर बैन लगाया गया है. अमेरिका के कुछ राज्यों में इससे सबंधित कुछ कानून लागू हैं. न्यूयॉर्क में अक्टूबर 2020 से इस पर प्रतिबंध लागू है.

अमेरिका में क्या स्थिति है? अमेरिका में सिंगल यूज प्लास्टिक पर पूर्ण प्रतिबंध नहीं है. वहां आंशिक तौर पर बैन लगाया गया है. अमेरिका के कुछ राज्यों में इससे सबंधित कुछ कानून लागू हैं. न्यूयॉर्क में अक्टूबर 2020 से इस पर प्रतिबंध लागू है.

केन्‍या में सबसे कड़े नियम: केन्या में वर्ष 2017 में प्लास्टिक बैग्स पर बैन लगाया गया. कहा जाता है कि केन्या में सबसे कड़े प्रतिबंध लागू हैं. वहां सिंगल यूज प्लास्टिक के प्रॉडक्शन, बिक्री और आयात पर पूरी तरह से प्रतिबंध है. पकड़े जाने पर 4 साल की जेल या 40 हजार डॉलर यानी करीब 31.5 लाख रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान है.

केन्‍या में सबसे कड़े नियम: केन्या में वर्ष 2017 में प्लास्टिक बैग्स पर बैन लगाया गया. कहा जाता है कि केन्या में सबसे कड़े प्रतिबंध लागू हैं. वहां सिंगल यूज प्लास्टिक के प्रॉडक्शन, बिक्री और आयात पर पूरी तरह से प्रतिबंध है. पकड़े जाने पर 4 साल की जेल या 40 हजार डॉलर यानी करीब 31.5 लाख रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान है.






Most Read Stories


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *