Sat. Jul 2nd, 2022

सूखी खांसी के घरेलु उपचार, लक्षण, कारण, उपाय क्या है, ईलाज, नुस्खा ट्रीटमेंट [Dry cough home remedies in hindi] (Gharelu Upay, Ilaj, Treatment, Causes, Symptoms)

कफ़ एक ऐसी समस्या है जो बहुत आम होती है और हर किसी को कभी भी हो सकती है. मौसम में जरा से बदलाव से हमारे शरीर में सबसे पहले असर होता है, और सूखी खांसी जैसी बीमारी हमें जकड़ लेती है. सर्दी होने से हमारी नाक गला सभी बंद हो जाता है और हमें सांस लेने तक में कठिनाई होती है. कई बार सर्दी तो ठीक हो जाती है, लेकिन खांसी पीछा नहीं छोड़ती, और ये खांसी बिना कफ के सूखी होती है.

सूखी खांसी के लिए घरेलू उपाय (Dry Cough Home Remedies)

सूखी खांसी यानि की कफ लोगों को होना आम बात हैं लेकिन इन दिनों कोरोना महामारी में इस तरह कली बीमारी बहुत खतरनाक साबित हो रही है. लेकिन इससे आप घर पर ही कुछ घरेलू नुस्खे अपनाकर ठीक कर सकते हैं. हम यहाँ आपको सूखी खांसी को ठीक करने के लिए कुछ घरेलू उपचार बताने जा रहे हैं, लेकिन उससे पहले आप इसके कारण एवं इसके लक्षण के बारे में जानें.

सूखी खांसी कब होती हैं, कारण Dry Cough Causes) –

  1. वायरल संक्रमण
  2. फ्लू
  3. सर्दी
  4. स्मोकिंग
  5. धुल मिट्टी के संपर्क में ज्यादा आना
  6. किसी बड़ी बीमारी का होना जैसे TB, अस्थमा, फेफड़ों में कैंसर आदि.

ये सभी कारण ऐेसे हैं जोकि आपको सूखी खांसी जैसी बीमारी का शिकार बना देते हैं. आपको इसके ऊपर विशेष ध्यान देना आवश्यक है.

सूखी खांसी के लक्षण (Symptoms)

  1. सूखी खांसी में आपको कफ़ नहीं निकलता है, सिर्फ खांसी आती है.
  2. खांसी लगातार होने से सीने, सर में दर्द भी होने लगता है.
  3. इसके अलावा ज्यादा खांसी आने की वजह से गले एवं कभी कभी पेट में भी दर्द होने लगते हैं.
  4. खांसी की वजह से हम अच्छे से खा पी भी नहीं पाते है.

सूखी खांसी से संक्रमण

जब हमें किसी पार्टी या फंक्शन में जाते हैं और हमें यह बीमारी सूखी खांसी होती है. हमे वहां सब के सामने शर्मिंदगी महसूस होती है. लगातार आती खांसी हमें सब लोगों की नजर में ले आती है और हमारी वजह से दुसरे भी परेशान होने लगते है. सूखी खांसी सबसे ज्यादा संक्रमण फैलाते है, इसके कीटाणु मुख से निकल कर हवा में मिल जाते है और दुसरे के शरिर में सांस के द्वारा अंदर चले जाते है. जिससे दूसरा व्यक्ति भी इससे संक्रमित हो जाता है. इसलिए लोग खांसी वाले इन्सान के संपर्क में आने से कतराते है.

सूखी खांसी आने पर सावधान

सूखी खांसी वाले व्यक्ति को हमेशा अपने साथ एक रुमाल रखना चाहिए, और जब भी खांसी आये रुमाल मुंह पर रखें ताकि कीटाणु किसी और तक ना पहुंचे. इसके अलावा आपको डॉक्टर से सलाह अवश्य लेते रहना चाहिए, क्योकि ये बीमारी आगे चलकर कोई बड़ी बीमारी का रूप से सकती है. साथ ही आपको सूखी खांसी न हो इसके लिए आपको ये बीमारी होने के कारण से सावधानी बरतनी होगी.

सूखी खांसी का ईलाज (Treatment)

वैसे तो खांसी की बहुत सी दवाइयां बाजार में उपलब्ध है और इनसे हमें आराम भी मिल जाता है, लेकिन अगर इसका इलाज हमें घर पर मुफ्त में मिल जाये तो क्या बात है. आयुर्वेद में हर बीमारी का इलाज है और ये इलाज बहुत असरदार भी होता है. आयुर्वेद में बीमारी धीरे धीरे लेकिन जड़ से मिट जाती है. सूखी खांसी दवाई खाने के बाबजूद 1-2 दिन में ठीक नहीं होती है, इसे ठीक होने में 10-15 दिन कई बार तो महीने लग जाते है. ये दवाई कई बार अपना असर भी नहीं दिखाती है.

Sukhi Khansi Dry cough home remedies gharelu upay in hindi

सूखी खांसी घरेलु उपचार के तरीके (Home Remedy (Gharelu Upay)]

आज हम आपको सूखी खांसी दूर करने के घरेलु उपचार बताते है. सूखी खांसी दूर करने के ये घरेलु तरीके  बहुत किफायती और असरदार होते है. जब भी आपको या आपके घर वालों को यह बीमारी हो आपको बस अपने घर में मौजूद सामान के अनुसार इसका इलाज करना है. सूखी खांसी के ये घरेलु नुस्खे आपको इस बीमारी से ठीक करेंगे. ये तरीके आपके किचिन में ही है बस आपको नजर घुमाने की जरुरत है. ये घरेलु उपचार दवाई से ज्यादा टेस्टी और असरदार होते है, जिसे आपके बच्चे भी आसानी से स्वाद ले लेकर खायेंगे.

शहद का उपयोग

एक शोध के अनुसार शहद खांसी में किसी दवाई से ज्यादा असरदार होती है. इसमें antibactirial प्रॉपर्टीज होती है जो खांसी के कीटाणु को नष्ट करती है. यह तरीका बच्चे बड़े सभी पर असरदार होता है, और खाने में टेस्टी होने के कारण सब इसे चाट चाट कर खाते है. 1 tbsp शहद को दिन में 3 बार लें इससे आपको जरुर आराम मिलेगा. रात को सोने से तुरत पहले जरुर लें इससे आपको सोते वक्त खांसी नहीं आएगी और आप चैन से सो पाएंगे. बच्चों को 1 tbsp की जगह 1 tsp ही खिलाएं. यह इलाज आप बच्चो के लिए भी अपना सकते है.

हल्दी का उपयोग

सूखी खांसी  के लिए हल्दी बहुत अच्छा इलाज है. हल्दी का प्रयोग आयुर्वेद में बहुत समय से होते आ रहा है. हल्दी हमारे सौन्दर्य को निखारने के साथ स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है. ½ कप पानी को उबाल लें, उसमें 1 tsp हल्दी, 1 दालचीनी स्टिक और 1 tsp काली मिर्च मिलाएं. इसे 1-2 min और उबालें फिर इसमें 1 tbsp शहद मिलाएं. अब इसे दिन में 2 बार पियें जब तक आपको आराम न मिल जाए. इसके अलावा 1 कप पानी में 1 चम्मच हल्दी पाउडर और 1 चम्मच अजवाइन डालें. इसे तब तक उबालें जब तक वह आधा ना रह जाये. अब इसमें शहद डालकर इसका सेवन करें.

अदरक का उपयोग

अदरक खांसी के लिए नेचुरल दवाई है. अदरक के कुछ कुछ टुकड़े 1 कप पानी में उबाल लें, फिर इसमें 2 चम्मच शाद मिलाएं और इसे दिन में 2-3 बार पियें. खांसी में जरुर आराम मिलेगा. इसके अलावा आप अदरक कुछ टुकड़े ऐसे ही चबा सकती है.

नमक के पानी का उपयोग

कफ में नमक का पानी बहुत असरदार होता है. यह गले के दर्द को दूर कर खांसी से भी आराम देता है. 1 गिलास गुनगुना पानी लें उसमें 1 tbsp नमक मिलाएं. अब इस पानी को मुंह में लेकर 15 तक गरारे करे. इस प्रक्रिया को दुहराते रहें. इसके आपके गले को बहुत आराम मिलेगा.

नीबू का उपयोग

नीम्बू में विटामिन c होता है जो कफ के संक्रमण को दूर करता है. 2 tbsp नीम्बू के रस में 1 tbsp शहद मिलाएं . इसे दिन में कई बार पियें, आपकी खांसी कम हो जाएगी.

लहसुन का उपयोग

लहसुनों में antibactirial property होती है जो खांसी दूर करने में सहायक होती है. 1 कप पानी में 2-3 लहसून की कालिया डालकर उबालें. इसे थोडा ठंडा कर इसमें शहद डालें और पी लें.

प्याज़ का उपयोग

खांसी के उपचार के लिए ये बहुत आसन तरीका है. ½ tsp प्याज के रस में ½ tsp शहद मिलाएं और इसे दिन में 2-3 बार पियें. इससे आपको जरुर आराम मिलेगा.

गरम दूध का उपयोग

गरम दूध से कफ में आराम मिलता है साथ ही ये सीने के दर्द को भी कम करता है. 1 गिलास दूध में 2 चम्मच शाद मिला कर पियें. इसे आप रात को सोने से पहले पियें. इससे खांसी में आराम मिलेगा.

कली मिर्च का उपयोग

काली मिर्च भी कफ में बहुत आराम देती है. इसे पीस कर दूध मिला कर खाएं खांसी में आराम मिलेगा. इसके अलावा इसे पीसकर घी में थोडा भून लें फिर इसे रोज खाएं. खांसी जल्दी ठीक हो जाएगी.

चाय का उपयोग

सर्दी खांसी में जी चाहता है बस कुछ गरम गरम पीने का, ऐसे में चाय से अच्छा क्या मिलेगा. आप अपनी रोज की चाय में तुलसी, काली मिर्च और अदरक मिला लें. इससे आपकी खांसी में बहुत जल्द आराम मिलेगा.

तुलसी का उपयोग

तुलसी के पत्तों का रस निकाल कर उसमें शहद मिलाएं. फिर इसमें अदरक का रस भी मिलाएं . इसे आप रोज दिन में 2 बार लें आपको खांसी से जरुर आराम मिलेगा.

गाजर के जूस का उपयोग

गाजर का जूस निकालें उसमें थोडा पानी भी मिला लें. अब इसमें 1 चम्मच शहद मिलाकर दिन में 3-4 बार पियें. आपको आराम मिलेगा.

बादाम का उपयोग

बादाम में बहुत से पोषक तत्व होते है जो कफ में आराम देते है. 4-5 बादाम को रात भर पानी में भिगो दें. अगले दिन इसे पीस कर पेस्ट बना लें अब इसमें 1 tsp बटर मिला लें. इसे दिन में 3-4 बार तब तक लें जब तक आपको आराम ना मिल जाये.

ये सभी तरीके नेचुरल है और आप ये तरीके बच्चो के लिए भी उपयोग कर सकते है . इससे किसी को कोई भी नुकसान नहीं होगा. और आपको जरुर बहुत अच्छे परिणाम मिलेगा. लेकिन अगर आपको 2 हफ़्तों में भी आराम नहीं मिला है, तो आप अपने डॉक्टर को जरुर दिखाएँ. 

कुछ और घरेलु नुस्खे

Leave a Reply

Your email address will not be published.