Mon. Jul 4th, 2022
Air India के पायलटों को तोहफा, रिटायरमेंट के बाद फिर से 5 साल के लिए काम करने का मिलेगा मौका

एअर इंडिया की सेवानिवृत्ति के बाद पायलटों को फिर से नियुक्त करने की पेशकश.

Air India ने तीन साल पहले रिटायर हुए पायलटों को पत्र भेज दिया गया है. एयरलाइन ने केबिन क्रू सहित अपने कर्मचारियों के लिए एक वॉलेंट्री रिटायरमेंट स्कीम शुरू की है और साथ ही साथ नई भर्ती भी कर रही है.

टाटा ग्रुप के स्वामित्व वाली एअर इंडिया (Air India) ने पायलटों की रिटायरमेंट के बाद उन्हें फिर से 5 साल के लिए काम पर रखने की पेशकश की है. एयरलाइन ने परिचालन में स्थिरता लाने के इरादे से यह पहल की है. आंतरिक स्तर पर जारी ई-मेल से यह जानकारी मिली. यह कदम ऐसे समय उठाया गया है कि जब कंपनी 300 विमानों के अधिग्रहण को लेकर बातचीत कर रही है. Air India इन पायलटों को कमांडर के रूप में फिर से नियुक्त करने पर विचार कर रही है. कंपनी ने चालक दल के सदस्यों सहित अपने कर्मचारियों के लिए एक स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति योजना भी शुरू की है और साथ ही साथ ही नए युवाओं की भर्ती भी कर रही है.

Air India के उप-महाप्रबंधक (कार्मिक) विकास गुप्ता ने एक इंटरनल मेल में कहा, हमें यह सूचित करते हुए खुशी हो रही है कि एअर इंडिया में कमांडर के रूप में 5 साल की अवधि के लिए या 65 वर्ष की आयु प्राप्त करने तक, जो भी पहले हो, रिटायरमेंट के बाद आपको अनुबंध पर भर्ती करने के बारे में विचार किया जा रहा है.

मेल के अनुसार, इच्छुक पायलटों को 23 जून तक लिखित सहमति के साथ अपना विवरण प्रस्तुत करने के लिए कहा गया है. इस संबंध में एअर इंडिया के प्रवक्ता को भेजे गए सवाल का कोई जवाब नहीं मिला.

एअर इंडिया ने पेश किया VRS स्कीम

अधिकारी ने कहा कि तीन साल पहले रिटायर हुए पायलटों को पत्र भेज दिया गया है. एयरलाइन ने केबिन क्रू सहित अपने कर्मचारियों के लिए एक वॉलेंट्री रिटायरमेंट स्कीम शुरू की है और साथ ही साथ नई भर्ती भी कर रही है.

किसी एयरलाइन के लिए पायलट सबसे महंगे एसेट होते हैं. केबिन क्रू और एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस इंजीनियरों जैसे अन्य रोल्स की तुलना में इन्हें सबसे अधिक भुगतान किया जाता है. इसके अलावा, डोमेस्टिक एविएशन इंडस्ट्री में पर्याप्त रूप से प्रशिक्षित पायलटों की कमी हमेशा से एक मुद्दा रहा है.

ये भी पढ़ें



Air India में पायलटों के लिए रिटायरमेंट की उम्र एयरलाइन के अन्य सभी कर्मचारियों की तरह 58 वर्ष है. महामारी से पहले, एअर इंडिया अपने रिटायर्ड पायलटों को अनुबंध पर फिर से काम पर रखा था, लेकिन मार्च 2020 के अंत के बाद इसे बंद कर दिया गया था. महामारी के प्रभाव को आंशिक रूप से ऑफसेट करने के लिए ऐसे पायलटों के अनुबंध भी समाप्त कर दिए गए थे.हालांकि, अन्य प्राइवेट एयरलाइनों के पायलट 65 वर्ष की उम्र तक उड़ान भरते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.