Tue. Feb 7th, 2023
Bihar: पटना सिविल कोर्ट में फट गया सबूत के तौर पर ले जाया गया बम, विस्फोट में एक पुलिसकर्मी घायल

पटना के सिविल कोर्ट में विस्फोट की सूचना मिलने से हड़कंप मच गया.(सांकेतिक फोटो)

Image Credit source: Representative Photo

अगमकुआं थाना इलाके में एक केस के दौरान जिंदा बम मिला था. इसी बम को दिखाने के लिए दरोगा इसे कोर्ट लेकर गए थे. वह सबूत के तौर पर बरामद बम जज साहब को दिखाना चाहते थे, जिससे अभियोजन पक्ष इसका सत्यापन करा सके.

पटना के सिविल कोर्ट में एक कम तीव्रता वाले विस्फोट की सूचना मिलने से हड़कंप मच गया. इस घटना में एक कांस्टेबल के घायल होने की खबर है. बिहार (Bihar) की राजधानी पटना के सिविल कोर्ट में हुए विस्फोट में एक पुलिसकर्मी के घायल होने की खबर है, बताया जा रहा है कि बम को सबूत के तौर पर कोर्ट में लाया गया था, जिससे केस की सुनवाई कर रहे जज को दिखाया जा सके. लेकिन उसी समय बम फट (Bomb Blast)गया और हर तरफ अफता-तफरी मच गई.धुआं हटने के बाद पता चला कि बम लाने वाला पुलिसकर्मी खुद ही इस घटना में घायल हो गया.

जब यह घटना हुई तो बहुत से लोगों को नहीं पता था कि यह बम सबूत के तौर पर कोर्ट में लाया गया है. जैसे ही बम फटा वहां पर अफरातफरी मच गई. लोगों को लगा कि कोई बड़ी घटना हो गई है. लेकिन थोड़ी ही देर में पचा चला कि यह सिर्फ एक हादसा था.बम फटने की घटना में एएसआई कदम कुवां मदन सिंह के दाहिने हाथ में चोट लगी है. हालांकि, किसी अन्य व्यक्ति के घायल होने की खबर नहीं है. यह जानकारी पटना के एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों की तरफ से दी गई है.

पटना सिविल कोर्ट में बम फटने से हड़कंप

बम ब्लास्ट होने से एक ASI घायल

जानकारी के मुताबिक आज कोर्ट में सबूत के तौर पर दिखाने के लिए अगमकुआं थाने के दारोगा अपने साथ बम लेकर पहुंचे थे. लेकिन बम में विस्फोट हो गया. इस घटना में पुलिसकर्मी खुद घायल हो गए. उनको इलाज के लिए तुरंत PMCH ले जाया गया. घायल ASI कोर्ट में सबूत के तौर पर बम दिखाने के लिए उसे लेकर वहां पहुंचे थे. लेकिन अभियोजन कार्यालय में ही बम ब्लास्ट हो गया. गनीमत ये रही कि इस कम की क्षमता कम थी, वरना कोई बड़ा हादसा हो सकता था.

ये भी पढ़ें



सबूत के तौर पर पेशी के लिए ले जाया गया था बम

खबर के मुताबिक अगमकुआं थाना इलाके में एक केस के दौरान जिंदा बम मिला था. इसी बम को दिखाने के लिए दरोगा इसे कोर्ट लेकर गए थे. वह सबूत के तौर पर बरामद बम जज साहब को दिखाना चाहते थे, जिससे अभियोजन पक्ष इसका सत्यापन करा सके. लेकिन कोर्ट में उस समय हड़कंप मच गया, जब पेशी से पहले ही बम ब्लास्ट हो गया. जब मामले की जांच की जा रही है कि क्या बम को सही से डिफ्यूज नहीं किया गया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *