Tue. Feb 7th, 2023
BJP ने दिया जोर का झटका Zor से! 2588 KM के हाईवोल्टेज सफर के बाद शिंदे को मिली महाराष्ट्र की सत्ता, Detail में बगावत से ताजपोशी तक का एक-एक दिन

बीजेपी ने शिवसेना से बगावत करने वाले एकनाथ शिंदे को मुख्यमंत्री बनाने का ऐलान किया है.

Image Credit source: PTI

Maharashtra News in Hindi: शिवसेना विधायक Eknath Shinde की ताजपोशी का सफर कई हजार किलोमीटर का रहा. इस पूरी कहानी की स्क्रिप्ट लिखी गई गुजरात के सूरत में. फिर करीब 2500 किलोमीटर दूर गुवाहाटी में ‘सियासी फिल्म’ का पहला सीन शूट किया गया.

Maharashtra Political Crisis Timeline: महाराष्ट्र में चल रहे सियासी फिल्म फुल ऑन ड्रामे से भरपूर रही है. गुरुवार को क्लाइमेक्स से एंटी क्लाइमेक्स ने पूरे देश को चौंका दिया. शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे (Shiv Sena Eknath Shinde) की बगावत के बाद से ही बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस के मुख्यमंत्री बनने की अटकलें शुरू हो गई थीं. आज दोपहर तक तो उनके शपथ ग्रहण तक के कार्यक्रम पर मुहर लगती दिख रही थी. मगर 4 बजते-बजते महाराष्ट्र की कहानी में फिर एक नया ट्विस्ट आ गया और फडणवीस (BJP MLA Devendra Fadnavis) ने ऐलान किया कि एकनाथ शिंदे ही राज्य के नए मुख्यमंत्री होंगे. बीजेपी का समर्थन उनके साथ है, लेकिन वह सीएम या मंत्री नहीं बनेंगे.

देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि उन्हें सत्ता का लालच नहीं है और वह बाहर बैठेंगे. कुछ ही देर में एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री पद की शपथ भी ले लेंगे. एकनाथ शिंदे ने भी मुंबई लौटकर प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि सरकार बनाने के लिए हमारे पास पर्याप्त विधायक हैं. एकनाथ शिंदे के अचानक से सीएम बनाए जाने के ऐलान से उनका परिवार भी हैरान है. उन्हें भी इसका अंदाजा नहीं था. शिंदे के भाई प्रकाश शिंदे ने एक टीवी चैनल से बातचीत में कहा कि हमें पता ही नहीं था, टीवी चैनल देखकर इस बारे में हमें पता चला. शिंदे की ताजपोशी का सफर कई हजार किलोमीटर का रहा. इस पूरी कहानी की स्क्रिप्ट लिखी गई गुजरात में. फिर करीब 2500 किलोमीटर दूर गुवाहाटी में ‘सियासी फिल्म’ का पहला सीन शूट किया गया. शिंदे बागी विधायकों के साथ यहां टिक गए. फिर आगे की कहानी में दिल्ली ने भी कैमियो निभाया. और करीब 10 दिन बाद फिल्म का क्लाइमेक्स मायानगरी मुंबई में ही पूरा हुआ. आइए जानते हैं 10 दिनों के इस सफर को 10 प्वाइंट में.

  1. 20 जून: शिवसेना नेता और मंत्री एकनाथ शिंदे ने पार्टी प्रमुख व सीएम उद्धव ठाकरे के खिलाफ बगावत का बिगुल बजा दिया. उद्धव की नाक के नीचे से शिंदे 11 विधायकों को सूरत ले उड़े. सीएम ठाकरे को इसकी भनक तब लगी जब बैठक में 10 से 12 विधायक नहीं पहुंचे. पता चला कि वे महाराष्ट्र में नहीं हैं.
  2. 21 जून: एकनाथ शिंदे ने सीएम ठाकरे से महाविकास अघाडी गठबंधन से हटकर बीजेपी के साथ गठबंधन करने की मांग की. साथ ही दावा किया उनके साथ 35 से ज्यादा विधायक हैं.
  3. 22 जून: शिवसेना के 40 विधायकों के साथ एकनाथ शिंदे असम की राजधानी गुवाहाटी पहुंच गए. संजय राउत ने कहा कि यह बीजेपी की साजिश है. एनसीपी प्रमुख शरद पवार और कांग्रेस ने उद्धव ठाकरे के साथ रहने की बात कही.
  4. 23 जून: पूरी सियासी ड्रामे का अहम दिन. 37 शिवसेना विधायकों ने शिंदे को विधायक दल का नेता घोषित कर दिया. शिंदे ने कहा कि वह बाला साहेब ठाकरे के शिवसैनिक हैं.
  5. 24 जून: शिवसेना ने बागी विधायकों के खिलाफ याचिका दायर की. इस याचिका में डिप्टी स्पीकर से शिवसेना ने शिंदे गुट के 16 विधायकों को अयोग्य घोषित करने की मांग की. डिप्टी स्पीकर के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव खारिज हो गया.
  6. 25 जून: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने शिंदे गुट को चेतावनी भरे लहजे में कहा कि कोई भी बाला साहेब या शिवसेना के नाम का इस्तेमाल नहीं कर सकता है.
  7. 26 जून: अविश्वास प्रस्ताव पर सुप्रीम कोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट ने 11 जुलाई का दिन तय किया. साथ ही विस्तृत हलफनामा जमा कराने को कहा.
  8. 27 जून: शिवसेना सांसद संजय राउत ने शिंदे गुट पर निशाना साधते हुए कहा कि ये विद्रोही नहीं भगौड़े हैं. यह भी खबर आई कि उद्धव दो बार इस्तीफा देना चाहते थे, लेकिन शरद पवार ने उन्हें रोक लिया.
  9. 28 जून: उद्धव ने विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात की. इस दौरान शिंदे और बीजेपी के बीच बातचीत पक्की होने की जानकारी भी सामने आई.
  10. 29 जून: महाराष्ट्र में चल रही सियासी उठापटक का सबसे अहम दिन. सुप्रीम कोर्ट ने 30 जून को फ्लोर टेस्ट पर रोक लगाने से इनकार कर दिया. फैसले के बाद उद्धव ने इस्तीफे का ऐलान कर दिया. साथ ही कहा कि उनसे शिवसेना को कोई छीन नहीं सकता. फडणवीस ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की.
  11. 30 जून: एकनाथ शिंदे गुवाहाटी से मुंबई पहुंचे. बाकी विधायक गोवा के लिए रवाना हुए. पहले चर्चा रही कि फडणवीस मुख्यमंत्री बनेंगे. लेकिन शाम होते-होते शिंदे और फडणवीस ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस की. फडणवीस ने ऐलान किया शिंदे अगले मुख्यमंत्री होंगे. वह मंत्री भी नहीं बनेंगे. साथ ही शाम 7.30 बजे सीएम पद की शपथ ली जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *