Wed. Aug 17th, 2022
Chhattisgarh: उदयपुर की तरह युवक को जान से मारने की धमकी देने वाले 2 लोग गिरफ्तार, सोशल मीडिया पर नूपुर शर्मा का समर्थन करने पर भड़के

गिरफ्तार आरोपी रायपुर के गोले बाजार इलाके के निवासी हैं.

Image Credit source: प्रतीकात्मक फोटो

छत्तीसगढ़ में दुर्ग जिले के एक युवक को जान से मारने की धमकी देने के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिफ्तार कर लिया है. पीड़ित युवक ने नूपुर शर्मा के पक्ष में इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया था. जिसके बाद उसे जान से मारने की धमकी दी गई थी.

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के दुर्ग जिले के एक युवक को जान से मारने की धमकी देने के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिफ्तार कर लिया है. पुलिस अधीक्षक (पुराने भिलाई) विश्वास चंद्राकर ने बताया कि आरोपियों की पहचान कुणाल सेंद्रे उर्फ ​​कासिफ (22) और रितिका भारती (20) के रूप में हुई है, दोनों राज्य की राजधानी रायपुर के गोले बाजार इलाके के निवासी हैं. बता दें, दुर्ग जिले के एक कस्बे निवासी युवक ने भारतीय जनता पार्टी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा के पक्ष में इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया था. जिसके बाद उसे जान से मारने की धमकी दी गई थी.

पुलिस के मुताबिक, जगत गोले बाजार इलाके के पास स्थित एक शॉपिंग मॉल में काम करता है. पीड़ित जगत ने शुक्रवार को शिकायत में बताया था कि 12 जून को उन्होंने शर्मा के समर्थन में अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर एक टिप्पणी पोस्ट की थी, जिसके बाद उन्हें दो अज्ञात व्यक्तियों से धमकी मिली, जिन्होंने उनसे कहा कि उन्हें गंभीर परिणाम भुगतने होंगे. पुलिस ने बताया कि पीड़ित की शिकायत के बाद आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 507 (गुमनाम संचार द्वारा आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस अधीक्षक चंद्राकर ने कहा कि एहतियात के तौर पर पुलिस कर्मी जगत के घर पर नजर रखे हुए हैं और इलाके में गश्त तेज कर दी गई है.

कन्हैयालाल और उमेश कोल्हे हत्याकांड के बाद तीसरा मामला

बता दें, अभी हाल ही में बीजेपी से निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा की पैगंबर पर की गई टिप्पणी के बाद विवाद बढ़ गया. नूपुर शर्मा के समर्थन को लेकर राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल और महाराष्ट्र के अमरावती में उमेश कोल्हे की हत्या कर दी गई. उसके बाद अब छत्तीसगढ़ निशाना बनता नजर आ रहा है.

एक नजर में समझें क्या है उदयपुर नृशंस हत्याकांड?

बता दें, उदयपुर के भूत महल क्षेत्र में एक व्यक्ति (पेशे से दर्जी) की उसकी दुकान के अंदर दिनदहाड़े हत्या कर दी गई थी. बताया गया कि दर्जी के 8 साल के बेटे ने पिछले दिनों सोशल मीडिया पर नूपुर शर्मा के समर्थन में स्टेटस लगा दिया था. जिसको लेकर समुदाय विशेष के एक पक्ष में गहरी नाराजगी थी. ऐसे में एक विशेष समुदाय के दो युवक दर्जी की दुकान में कपड़े का माप देने के लिए घुसे. मौका मिलते ही दर्जी पर कई बार चाकुओं से वार किए. जिसके बाद दर्जी की मौके पर ही मौत हो गई. घटना के एक वीडियो में आरोपियों ने हत्या की जिम्मेदारी ली. इसके बाद विशेष समुदाय के दो युवकों गौस मोहम्मद और रियाज जब्बार ने वीडियो जारी कर हत्या की जिम्मेदारी ली. मामले के चार आरोपियों मुख्य आरोपर गौस मोहम्मद, रियाज जब्बार और हत्याकांड की साजिश में शामिल दो अन्य आरोपी मोहसिन और आसिफ को गिरफ्तार किया जा चुका है.

क्या है अमरावती उमेश कोल्हे हत्याकांड ?

मालूम हो कि महाराष्ट्र के अमरावती में केमिस्ट उमेश कोल्हे 21 जून की रात दुकान बंद करके अपने घर जा रहा थे. तभी कुछ लोगों ने उस पर हमला कर दिया और उस पर चाकू से वार कर दिया गया. घटना में केमिस्ट की मौत हो गई. बताया गया कि मृतक ने कुछ वाट्सऐप ग्रुपों में नूपुर शर्मा के पक्ष में मैसेज फॉरवर्ड किए थे, लेकिन व्यक्तिगत रूप से किसी को नहीं किया था. अब तक इस मामले में अमरावती पुलिस ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. बीती 23 जून को दो आरोपियों मुदस्सिर अहमद और शाहरुख पठान (25) को पुलिस ने गिरफ्तार किया. वहीं, हत्याकांड में चार अन्य 25 जून को अब्दुल तौफीक (24) शोएब खान (22) और आतिब राशिद(22) पकड़े गए. हालांकि, इस मामले का मुख्य आरोपी अहमद फिरोज अब तक फरार है.

ये भी पढ़ें



(पीटीआई के इनपुट के साथ)

Leave a Reply

Your email address will not be published.