Mon. Jan 30th, 2023
DRDO Recruitment 2022: डीआरडीओ में निकली JRF की वैकेंसी, नोटिफिकेशन देखकर यहां करें अप्लाई

DEBEL, DRDO Recruitment 2022

Image Credit source: File Photo

DRDO Recruitment 2022: डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) ने 7 JRF पोस्ट के लिए वैकेंसी निकाली है. ऑफिशियल वेबसाइट drdo.gov.in के जरिए यहां अप्लाई किया जा सकता है.

DEBEL, DRDO Recruitment: डिफेंस बायोइंजीनियरिंग एंड इलेक्ट्रोमेडिकल लेबोरेटरी (DEBEL), डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (DRDO) ने JRF पोस्ट के लिए एप्लिकेशन मांगे हैं. इच्छुक उम्मीदवार DRDO की ऑफिशियल वेबसाइट drdo.gov.in के जरिए ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं. इस भर्ती अभियान के तहत 7 पोस्ट को भरा जाएगा. अप्लाई करने की आखिरी तारीख रोजगार समाचार में इस पोस्ट के लिए विज्ञापन के पब्लिश होने के 15 दिन बाद होगी. ऐसे में आइए इन पोस्ट पर भर्ती के लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया, सेलेक्शन प्रोसेस और अन्य जानकारियों के बारे में जानते हैं.

DRDO में इन पदों पर अप्लाई करने वाले उम्मीदवार के पास इंजीनियरिंग में बीई/बीटेक की डिग्री होना चाहिए. साथ ही उम्मीदवार फर्स्ट डिवीजन के साथ नेट/गेट एग्जाम को क्वालिफाई करने वाला होना चाहिए. यहां गौर करने वाली बात ये है कि इन पदों पर अप्लाई करने वाले उम्मीदवार की सभी क्वालिफिकेशन किसी मान्यता प्राप्त संस्थान या यूनिवर्सिटी से होनी चाहिए. इन पदों पर अप्लाई करने वाले उम्मीदवार की उम्र 28 साल से अधिक नहीं होनी चाहिए. जूनियर रिसर्च फेलो (JRF) के लिए फेलोशिप शुरू में दो साल की अवधि के लिए दी जाएगी, जिसमें हर महीने 31,000 रुपये दिए जाएंगे और नियमों के तहत मकान किराया भत्ता भी दिया जाएगा.

Direct Notification Link

Selection Process of DEBEL, DRDO Recruitment

इन पदों पर सेलेक्शन ऑनलाइन या ऑफलाइन इंटरव्यू के आधार पर किया जाएगा. बताया गया है कि एप्लिकेशन की स्क्रीनिंग एक स्क्रीनिंग कमेटी द्वारा की जाएगी. इसके बाद शॉर्टलिस्ट किए गए उम्मीदवारों का इंटरव्यू या तो वेब-बेस्ड वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए या ऑफलाइन मोड में किया जाएगा. बता दें कि इंटरव्यू का शेड्यूल ईमेल के जरिए पहले ही उम्मीदवार को दे दिया जाएगा.

ये भी पढ़ें



बता दें कि DRDO देश का रक्षा से जुड़ा एक शीर्ष इंस्टीट्यूशन है. यहां पर रक्षा से जुड़ी चीजें तैयार की जाती है. DRDO रक्षा मंत्रालय का आर एंड डी (रिसर्च एण्ड डेवलपमेंट) विंग है. इसका काम आधुनिक हथियारों को तैयार करना है. इसके अलावा, DRDO इलेक्ट्रॉनिक्स, रक्षा उपकरण, गोला-बारूद, एयरोनॉटिक्स सेक्टर में रिसर्च का काम करता है. DRDO के पास 50 से ज्यादा लैब्स हैं. वर्तमान में यहां पर 30 हजार के करीब लोग काम कर रहे हैं. इसमें 5000 वैज्ञानिक शामिल हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *