Wed. Feb 8th, 2023
ENG vs IND: इंग्लैंड के खिलाफ फ्रंटफुट पर भारत, पिछले 4 टेस्ट में हर मोर्चे पर पलड़ा भारी, अब एजबेस्टन की बारी

पिछले 4 टेस्ट में पड़े भारी अब एजबेस्टन की बारी

Image Credit source: Twitter

एजबेस्टन में भारत के पिछले टेस्ट आंकड़ों पर जाएंगे तो शायद आप उसकी जीत की उम्मीद ना लगाएं. लेकिन, अगर पटौदी सीरीज (Pataudi Series) के पिछले 4 टेस्ट में आप उसके खेल को देखेंगे तो ये कह सकते हैं कि भारतीय टीम ने एजबेस्टन में अब तक भले ही कुछ अच्छा ना किया हो, लेकिन इस बार इतिहास पलट सकता है.

भारत और इंग्लैंड के बीच एजबेस्टन टेस्ट उसी पटौदी सीरीज (Pataudi Series) का हिस्सा है, जो पिछले साल खेला गया था. 5 मैचों की सीरीज के 4 टेस्ट तो खेल लिए गए थे, लेकिन मैनचेस्टर में होने वाला 5वां टेस्ट कोरोना के चलते टल गया था. वही टेस्ट अब एजबेस्टन में खेला जा रहा है, जिस पर सीरीज का नतीजा टिका है. एजबेस्टन में भारत के पिछले टेस्ट आंकड़ों पर जाएंगे तो शायद आप उसकी जीत की उम्मीद तो क्या उससे बेहतर प्रदर्शन की आस भी ना लगाएं. भारत ने इस मैदान पर अब तक 7 टेस्ट खेले हैं, जिसमें 6 हारे हैं और 1 मुकाबला ड्रॉ कराया है. लेकिन, अगर पटौदी सीरीज के पिछले 4 टेस्ट में आप उसके खेल को देखेंगे तो ये कह सकते हैं कि भारतीय टीम ने एजबेस्टन में अब तक भले ही कुछ अच्छा ना किया हो, लेकिन इस बार इतिहास पलट सकता है.

भारत पटौदी सीरीज में फिलहाल 2-1 से आगे हैं. ऐसे में वो एजबेस्टन टेस्ट ड्रॉ भी करा लेता है तो उसका काम बन जाएगा. लेकिन मेजबान इंग्लैंड को सीरीज में हार टालने के लिए जीतना जरूरी है. इंग्लैंड की टीम के साथ अच्छी बात ये है कि उसका मौजूदा फॉर्म भारतीय टीम के मुकाबले बेहतर है. और, ऐसे में एजबेस्टन में इतिहास पलटना टीम इंडिया के लिए उतना भी आसान नहीं होगा.

मैच दर मैच पहले 4 टेस्ट का हाल

अब जरा पटौदी सीरीज के उन 4 टेस्ट पर गौर कर लेते हैं जो पहले खेले जा चुके हैं. भारत और इंग्लैंड के बीच पहला टेस्ट मैच नॉटिंघम में खेला गया था, जो कि ड्रॉ रहा था. दूसरा टेस्ट मैच लॉर्ड्स में खेला गया, जिसे जीतते हुए भारत ने 1-0 की बढ़त सीरीज में बनाई थी. दोनों टीमों के बीच तीसरा टेस्ट मैच लीड्स में हुआ, जिसे इंग्लैंड ने पारी और 76 रन के बड़े अंतर से जीता और इस तरह सीरीज 1-1 की बराबरी पर आ गई. चौथा टेस्ट मैच ओवल पर हुआ और भारत ने इसमें 157 रन की जीत दर्ज की. इस जीत से भारत ने 2-1 की बढ़त ले ली और बुलंद हौसले के साथ मैनचेस्टर पहुंची, जहां 5वां टेस्ट खेला तो जाना था लेकिन कोरोना के चलते वो टल गया.

टॉप 5 रनवीरों में 4 भारतीय

पटौदी सीरीज के पहले 4 टेस्ट में भारत का पलड़ा बैट और बॉल दोनों में भारी रहा. पहले 4 टेस्ट में सबसे ज्यादा 568 रन बनाने वाले बल्लेबाज बेशक जो रूट रहे, लेकिन अगर आप टॉप 5 की लिस्ट देखेंगे तो रूट के बाद फिर बाकी के 4 बल्लेबाज भारतीय रहे. टीम इंडिया की ओर से रोहित शर्मा 368 रन के साथ सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे. वहीं केएल राहुल 315 रन के साथ उनके बाद लिस्ट में नजर आए. इसके बाद चेतेश्वर पुजारा ने 227 रन बनाए जबकि विराट कोहली ने 218 रन ठोके. हालांकि, एजबेस्टन टेस्ट में भारत को अपने टॉप टू रनवीरों की सेवाएं नहीं मिलेंगी.

टॉप 5 विकेटटेकर में 3 भारतीय

बल्लेबाजी की ही तरह गेंदबाजी का भी ग्राफ है, जहां इंग्लैंड के ओली रॉबिन्सन भले ही 21 विकेटों के साथ टॉप पर हों. लेकिन 18 विकेटों के साथ भारत के जसप्रीत बुमराह भी दूसरे नंबर पर हैं. इसके अलावा 15 विकेटों के साथ जेम्स एंडरसन हैं, जबकि चौथे और 5वें नंबर पर फिर से दो भारतीय गेंदबाज ही हैं. कुल मिलाकर गेंदबाजी में भी पहले 4 टेस्ट का रिपोर्ट कार्ड अगर आप देखें तो टॉप 5 में 3 भारतीय ही हैं.

ये भी पढ़ें



भारत ने इंग्लैंड में पिछले 15 साल से टेस्ट सीरीज नहीं जीती है. इस बार मौका अच्छा है. वो अगर एजबेस्टन टेस्ट जीत नहीं सकता तो कम से कम ड्रॉ करा ले. बस हारना नहीं है. और, इसके लिए हर एक खिलाड़ी को इस टेस्ट में अपना बेस्ट देना होगा और एजबेस्टन में खराब रिकॉर्ड के इतिहास को बदलने के संकल्प के साथ मैदान पर उतरना होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *