Tue. Feb 7th, 2023
Flower farming: किसानों की जिंदगी में रंग भर रही गेंदे की खेती, बढ़ रही इनकम

गेंदा फूल की खेती से किसान कर रहे अच्छी कमाई.

Image Credit source: File Photo

उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में करीब 100 हेक्टेयर में 70 किसान गेंदे की खेती कर रहे हैं. पारंपरिक फसलों से अधिक मिल रहा लाभ. सरकार किसानों को दे रही सब्सिडी और ट्रेनिंग.

उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में फूलों की खेती (Flower farming) से किसान मालामाल हो रहे हैं. अभी तक किसान पारंपरिक खेती किया करते थे. बागवानी विभाग द्वारा चलाए गए अभियान के तहत हरदोई में करीब 100 हेक्टेयर में 70 किसान गेंदे की खेती कर रहे हैं. इससे उनकी कमाई बढ़ रही है. यहां किसान पारंपरिक खेती छोड़कर खेती-किसानी की तस्वीर बदल रहे हैं. दूर-दूर तक पीले, सिंदूरी और कई तरीके के गेंदे के फूलों की खेती किसानों (Farmers) की साधारण जिंदगी में रंग भर रहे हैं. गेंदे का बाजार भाव कब 20 से 150 प्रति किलो हो जाए कहा नहीं जा सकता है. इसलिए किसान इस पर फोकस कर रहे हैं.

हरदोई के संडीला तहसील क्षेत्र के बेलई गांव निवासी विजय शंकर और आबिद खेड़ा निवासी रमेश बताते हैं कि वह पिछले एक दशक से गेंदे की खेती कर रहे हैं. गेंदे की खेती और उससे पैदा होने वाले फूल की अच्छी कीमत संडीला से करीब 40 किलोमीटर दूर स्थित लखनऊ के चौक में मिल जाती है. किसान विजय शंकर ने बताया कि इसकी खेती खुशबू बिखेरने के साथ जीवन को भी मुनाफे से भर देती है.

बागवानी विभाग दे रहा है ट्रेनिंग

फूल खिलने के बाद बाजार भाव के हिसाब से इसके फूल को एक हफ्ते तक रोका जा सकता है. आमतौर पर इसका सही बाजार भाव मिल जाता है. इसलिए किसान इसकी खेती को प्राथमिकता दे रहे हैं. किसान विजय शंकर का कहना है कि उन्होंने मात्र 700 रुपये से गेंदे की फसल की तैयारी शुरू की थी और आज वह इसे लाखों में पहुंचा चुके हैं. अब आसपास के किसान भी उन्हें देखकर गेंदे की खेती कर रहे हैं. उद्यान अधिकारी सुरेश कुमार ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh Government) की मदद से गेंदा फूल की खेती का प्रशिक्षण उद्यान विभाग की तरफ से दिया जा रहा है. जिले के 70 किसान 100 हेक्टेयर में गेंदे की खेती कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें



फूलों की खेती के लिए दी जा रही है सब्सिडी

बागवानी विभाग के ट्रेनिंग सहायक हरिओम ने बताया कि फूलों की खेती के लिए किसानों को ट्रेंड किया जा रहा है. ट्रेनिंग के बाद बेहतरीन खेती हो सकती है. समय-समय पर अभियान चलाकर किसानों को बताया जा रहा है कि वे कैसे फूलों की खेती करें तो ज्यादा फायदा मिलेगा. हरदोई के जिला अधिकारी अविनाश कुमार ने बताया कि किसानों को शासन की मंशा के अनुरूप बेहतर उपायों के जरिए सब्सिडी (Subsidy) भी प्रदान की जा रही है. खेती किसानी से जुड़े किसान नेता सरोज दीक्षित ने बताया कि जिले में अफ्रीकन गेंदा, फ्रांसीसी गेंदा की उन्नत किस्में उगाई जा रही हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *