Wed. Feb 8th, 2023
Gram Procurement: छह राज्यों में बंद हुई चने की सरकारी खरीद, अब ओपन मार्केट में एमएसपी से कम मिल रहा दाम

कहां कितनी हुई चने की खरीद.

Image Credit source: TV9 Digital

सरकार द्वारा तय लक्ष्य का करीब 88 फीसदी चना खरीदा जा चुका है. इसके प्रमुख उत्पादक राज्यों महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, गुजरात, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में सरकारी खरीद अब बंद हो चुकी है. जानिए देश में इस बार कितना हुआ है चने का उत्पादन.

दलहन फसलों में अहम स्थान रखने वाले चने की सरकारी खरीद (Gram Procurement) अब अंतिम चरण में है. गुजरात, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में खरीद बंद हो चुकी है. केंद्र ने 2022-23 के लिए 29 लाख मीट्रिक टन चना खरीदने का टारगेट रखा था. तय किए गए लक्ष्य के करीब 88 फीसदी चना खरीदा जा चुका है. रबी मार्केटिंग सीजन 2022-23 में सरकार ने चने का न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP of Gram) 5230 रुपए प्रति क्विंटल तय किया था. खरीद बंद होने का असर अब ओपन मार्केट दिखाई देने लगा है. इसका खुले बाजार में भाव सिर्फ 4500 से 4800 रुपये प्रति क्विंटल तक ही मिल रहा है. चने के सबसे बड़े उत्पादक मध्य प्रदेश के बाजारों में भी इसका दाम एमएसपी से कम ही मिल रहा है.

नेफेड ने 29 जून तक चने की कुल 25.76 लाख मीट्रिक टन की खरीद की है. जबकि उसके पास तकरीबन 32 लाख मीट्रिक टन चने का स्टॉक पड़ा हुआ है. जिसमें से 6.24 लाख मीट्रिक टन का पुराना स्टॉक है. दलहन फसलों (Pulses Crops) में चने की भागीदारी करीब 45 परसेंट है. इसके सबसे बड़े उत्पादक एमपी में ही सबसे ज्यादा सरकारी खरीद भी हुई है.

किस राज्य में कितनी हुई चने की खरीद?

  • राज्यवार सरकारी खरीद के आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र में 7.60 लाख मीट्रिक टन चना खरीदा गया.
  • गुजरात में 5.59 लाख मीट्रिक टन चने की खरीद हुई है.
  • मध्य प्रदेश में 8.02 लाख मीट्रिक टन चना खरीदा गया है.
  • राजस्थान में 2.85 लाख मीट्रिक टन चने की खरीद की गई है.
  • कर्नाटक में 74 हजार मीट्रिक टन चने की खरीद हुई है.
  • आंध्र प्रदेश में 72 हजार मीट्रिक टन चना खरीदा गया है.
  • उत्तर प्रदेश में 19.56 हजार मीट्रिक टन चने की सरकारी खरीद हो चुकी है.

कहां कितना था चना खरीद का टारगेट

महाराष्ट्र में चने की सरकारी खरीद का लक्ष्य 7.76 लाख मीट्रिक टन था. गुजरात में 5.36 लाख मीट्रिक टन, मध्य प्रदेश में 8.71 लाख मीट्रिक टन और राजस्थान में 5.98 लाख मीट्रिक टन खरीद का लक्ष्य तय किया गया था.

अगर देश भर में चने के उत्पादन (Gram Production) की बात करें तो इसे सालाना आधार पर 17.4 फीसदी बढ़कर 139.8 लाख मीट्रिक टन होने का अनुमान है. गुजरात में चना उत्पादन 49 फीसदी बढ़कर 21.4 लाख मीट्रिक टन रहने का अनुमान है. राजस्थान में चना उत्पादन 20 फीसदी बढ़कर 27.2 लाख मीट्रिक टन और महाराष्ट्र में 15 फीसदी बढ़कर 27.6 लाख मीट्रिक टन होने का अनुमान लगाया गया है.

ये भी पढ़ें



मंडियों में कितनी हुई आवक

ओरिगो ई-मंडी की एक रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार 1 मार्च से 29 जून 2022 के दौरान मंडियों में चने की आवक पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 17 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 16.9 लाख मीट्रिक टन दर्ज की गई है. इस साल मार्च महीने के दौरान आवक 21 फीसदी कम दर्ज की गई थी. हालांकि अप्रैल के बाद से इसमें बढ़ोतरी हुई. अब तक सालाना आधार पर आवक में 17 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *