Sat. Jul 2nd, 2022

हम अपनी ब्यूटी की सभी जरूरतों के लिए हमेशा केमिकल प्रॉडक्ट (Chemical Products) का इस्तेमाल करते आए हैं। फिर चाहे वो पिंपल कम करने के लिए हो, नहाने के लिए, या मेकअप करने के लिए। मगर, हम यह समझना भूल जाते हैं कि धूल, मिट्टी और प्रदूषण के अलावा, हमारी त्वचा संबंधी समस्याओं का एक कारण इन प्रॉडक्ट में इस्तेमाल किए जाने वाले केमिकल्स भी हैं।

ये प्रॉडक्ट न सिर्फ त्वचा पर दाग – धब्बों और मुहांसों का कारण बनते हैं, बल्कि कुछ ऐसी त्वचा की समस्याएं खड़ी कर देते हैं, जिनसे निजात पाना बहुत मुश्किल हो जाता है। इतना ही नहीं ये हार्मफुल केमिकल्स पर्यावरण (World Environment Day) को भी भारी नुकसान पहुंचा सकते हैं। ऐसे में इन समस्याओं से पार पाने का एक मात्र उपाय है घरेलू नुस्खों को आजमाना या ऑर्गैनिक प्रॉडक्ट का इस्तेमाल करना।

विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day)

क्लाइमेट चेंज और ग्लोबल वार्मिंग के बढ़ते कहर के बारे में लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस मनाया जाता है। पहली बार 1973 में आयोजित, विश्व पर्यावरण दिवस को संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (यूएनईपी) द्वारा इसे आयोजित किया गया था। इस बार 50 साल पूरे होने के उपलक्ष्य पर यह स्वीडन द्वारा आयोजित किया जा रहा है।

आज हम आपके लिए ऐसा ही साबुन लेकर आएं हैं, जो आप घर पर बड़ी आसानी से बना सकती हैं। ये ऑर्गैनिक है, नैचुरल है और त्वचा के लिए फायदेमंद भी। जी हां … हम बात कर रहे हैं हल्दी के साबुन की। जो आपकी त्वचा संबंधी सभी समस्याओं (Skin Problems) का रामबाण इलाज है।

अपने घर पर बने हल्दी के साबुन (Haldi Soap) से नहाना आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। तो चलिये इसे बनाने की विधि जान लेते हैं। मगर उससे पहले एक नज़र इसके फ़ायदों पर –

haldi ke fayde
हल्दी आपकी त्वचा के लिए फायदेमंद है। चित्र-शटरस्टॉक।

जानिए आपकी त्वचा के लिए कैसे फायदेमंद है घर का बना हल्दी वाला साबुन?

1 दाग – धब्बों को हटाए

अपने एंटी – इंफ्लेमेटरी (Anti-inflammatory) प्रकृति के कारण, हल्दी मुहांसों को ठीक करने में मदद करती है। इसके एंटीसेप्टिक और जीवाणुरोधी गुण अतिरिक्त तेल से रोमछिद्रों को बंद होने से रोकने में सहायक हैं। साथ ही, मुंहासे पैदा करने वाले बैक्टीरिया (Bacteria) का मुकाबला करने में भी मदद करते हैं।

2 डार्क स्पॉट्स को कम करे

भारत में सदियों से हल्दी का इस्तेमाल पिगमेंटेशन (Pigmentation) की समस्या को दूर करने के लिए किया जाता रहा है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह त्वचा में मेलेनिन उत्पादन को कम करती है और त्वचा की टोन को ईवन करने में मदद करती है। इसलिए यह काले धब्बे, मुंहासों के निशान और आंखों के नीचे काले घेरों को हटाने के लिए बहुत फायदेमंद है।

3 त्वचा की रंगत निखारे

हल्दी रक्त प्रवाह को उत्तेजित करती है और इसे साफ भी करती है। यह त्वचा को शुद्ध करने में मदद करती है और इसमें एक प्राकृतिक, चमक पैदा करने वाला गुण होता है। जो आपकी त्वचा में निखार ला सकता है।

4 अनचाहे बालों के विकास को कम करे

2017 के एक अध्ययन में पाया गया है कि हल्दी के तेल ने 10 सप्ताह के दौरान 60 महिलाओं के अंडरआर्म्स पर बालों के विकास को धीमा कर दिया। यदि आप अनचाहे बालों के विकास से जूझ रही हैं, तो हल्दी का साबुन एक बेहतरीन प्राकृतिक उपाय हो सकता है।

facial hair se azaadi ke liye apnaye prakritik upaay
फेशियल हेयर से आजादी के लिए अपनाएं प्राकृतिक उपाय। चित्र: शटरस्टॉक

चलिये जानते हैं घर पर हल्दी का साबुन बनाने की विधि (Haldi Soap Recipe)

घर पर हल्दी साबुन बनाने के लिए आपको चाहिए

कोई भी रेगुलर सोप बेस
डेढ़ छोटा चम्मच हल्दी पाउडर
1 बड़ा चम्मच नारियल का तेल
2 चम्मच एसेंशियल ऑयल
साबुन का सांचा

हल्दी का साबुन बनाने की विधि

साबुन के बेस को टुकड़ों में काट लें और इसे माइक्रोवेव में तब तक पिघलाएं जब तक कि यह एक लिक्विड न बन जाए।

अब इस लिक्विड बेस में हल्दी डालें और अच्छी तरह मिलाएं।

एक बार जब हल्दी और साबुन का मिश्रण मिल जाए, तो नारियल का तेल डालें। नारियल का तेल आपकी त्वचा को तुरंत मॉइस्चराइज़ करेगा।

इस मिश्रण में एसेंशियल ऑयल मिलाएं। आप यहां अपनी पसंद की किसी भी खुशबू का इस्तेमाल कर सकती हैं।

सब कुछ अच्छी तरह मिक्स करें।

बैटर के हल्का गर्म होने पर घोल को साबुन के सांचे में डालें।

सांचे को ऊपर से ढक दें। इसे 24 घंटों के लिए सुखाएं मगर इसे फ्रिज में न रखें।

एक बार जब साबुन सख्त हो जाए, तो मोल्ड को हटा दें।

यह भी पढ़ें : केमिकल वाले शैंपू और हेयर कलर भी हो सकते हैं हेयर फॉल का कारण, एक्सपर्ट बता रही हैं कैसे

Leave a Reply

Your email address will not be published.