Mon. Jan 30th, 2023
Income Tax Rules: 1 जुलाई से लागू हो जाएंगे इनकम टैक्स से जुड़े ये 3 बड़े नियम, जानिए आप पर क्या पड़ेगा असर

1 जुलाई से लागू हो जाएंगे इनकम टैक्स से जुड़े ये 3 बड़े नियम

New Income Tax Rules: आज यानी 30 जून को वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही खत्म होने के साथ ही 1 जुलाई, 2022 से इनकम टैक्स से जुड़े 3 बड़े नियम लागू हो जाएंगे. बता दें कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2022-23 में 1 जुलाई से लागू होने वाले इन तीनों नियमों को लेकर घोषणा की थी.

आज यानी 30 जून को वित्त वर्ष 2022-23 की पहली तिमाही खत्म होने के साथ ही 1 जुलाई, 2022 से इनकम टैक्स (Income Tax) से जुड़े 3 बड़े नियम लागू हो जाएंगे. बता दें कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने बजट 2022-23 में 1 जुलाई से लागू होने वाले इन तीनों नियमों को लेकर घोषणा की थी. 3 में से एक नियम ऐसा है, जिसका असर देश के प्रत्येक आम आदमी पर पड़ेगा. जबकि दूसरा नियम क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) में निवेश करने वाले लोगों पर प्रभाव डालेगा. वहीं तीसरा नियम, डॉक्टरों और सोशल मीडिया इंफ्लूएंसर (Social Media Influencer) के लिए है. आइए जानते हैं कल से लागू होने वाले उन तीनों नियमों के बारे में, जिनका सीधा असर आम आदमी के साथ-साथ क्रिप्टो के निवेशकों, डॉक्टरों और सोशल मीडिया इंफ्लूएंसरों पर पड़ने वाला है.

पैन-आधार लिंक कराने में हुई देरी तो देना होगा दोगुना जुर्माना

नियमों के मुताबिक पैन और आधार कार्ड को लिंक करने की आखिरी तारीख 30 जून, 2022 है. अगर कोई व्यक्ति 30 जून तक अपना पैन और आधार लिंक नहीं करता है तो उसे 500 रुपये के बजाय 1000 रुपये का जुर्माना देना पड़ेगा. कहने का सीधा मतलब ये है कि पैन और आधार लिंक करने के लिए आपके पास सिर्फ आज का दिन है. अगर आप आज अपना पैन और आधार लिंक नहीं करते हैं तो कल यानी 1 जुलाई, 2022 से आपको दोगुना जुर्माना देना पड़ेगा. पैन और आधार लिंक करने का आसान तरीका जानने के लिए यहां क्लिक करें.

क्रिप्टोकरेंसी ट्रांजेक्शन पर कटेगा 1 फीसदी का एक्स्ट्रा टीडीएस

भारत सरकार ने 1 अप्रैल, 2022 से क्रिप्टोकरेंसी से होने वाले लेनदेन पर 30 प्रतिशत के इनकम टैक्स का नियम लागू किया था. लेकिन सरकार, क्रिप्टोकरेंसी में लेनदेन करने वाले निवेशकों को 1 जुलाई से नई टेंशन देने जा रही है. जी हां, सरकार 1 जुलाई से क्रिप्टोकरेंसी से होने वाले ट्रांजेक्शन पर 1 फीसदी के एक्स्ट्रा टीडीएस का नियम शुरू करने जा रही है. यहां ध्यान देने वाली बात ये है कि क्रिप्टो में ट्रांजेक्शन करने वालों को फायदा हो या नुकसान, टीडीएस सभी का कटेगा. हालांकि, जिन लोगों को क्रिप्टो ट्रांजेक्शन में नुकसान होगा, वे रिफंड के लिए क्लेम कर सकेंगे. क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेड करने वाले निवेशकों के लिए एक्सपर्ट्स की सलाह है कि अगर वे इस दुनिया में प्रवेश करते हैं तो उन्हें बिना देरी किए आईटीआर फाइल करना चाहिए.

एक साल में 20 हजार से ज्यादा के फायदे पर कटेगा 10 फीसदी टीडीएस

संसद में बजट 2022-23 पेश करते हुए वित्त मंत्री ने इनकम टैक्स एक्ट 1961 में 194R सेक्शन को पेश किया था. इनकम टैक्स के नियमों में ये एक बिल्कुल नया नियम है, जिसके तहत डॉक्टरों और सोशल मीडिया इंफ्यूएंसर्स को मिलने वाले फायदों पर 10 प्रतिशत का टीडीएस देना होगा. हालांकि, ये नियम सिर्फ उन डॉक्टरों और सोशल मीडिया इंफ्यूएंसर्स पर लागू होगा, जिन्हें मिलने वाला सालाना लाभ 20 हजार रुपये से ऊपर का होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *