Wed. Feb 8th, 2023
Kerala: ऑफिस पर हमले के हफ्ते भर बाद केरल पहुंचे राहुल गांधी, कहा- किसानों और खेती के लिए काम करे सरकार

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी

Image Credit source: PTI

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी आज अपनी तीन दिवसीय दौरे पर केरल पहुंच गए. कन्नूर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचने पर पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी का जोरदार स्वागत किया.

केरल के कलपेट्टा में अपने ऑफिस पर हुए हमले के एक हफ्ते बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Congress Leader Rahul Gandhi) आज शुक्रवार को अपनी तीन दिवसीय यात्रा पर इस दक्षिणी राज्य पहुंच गए. अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड में एक कार्यक्रम के दौरान राहुल गांधी ने अपने संबोधन में कहा कि आज हमारे किसानों और खेती को नजरअंदाज किया जा रहा है. किसानों को बिना किसी समर्थन के उन्हें उनकी स्थिति पर छोड़ दिया गया है. सरकारों को हमारे किसानों और खेती की रक्षा के लिए काम करना चाहिए.

इससे पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी आज अपनी तीन दिवसीय दौरे पर केरल पहुंच गए. कन्नूर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचने पर पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी का जोरदार स्वागत किया. फिर कन्नूर से कांग्रेस नेता सड़क मार्ग के जरिए अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड के लिए रवाना हो गए.

तीन दिवसीय दौरे केरल पहुंचे राहुल गांधी

राहुल गांधी केरल में अपने तीन दिवसीय दौरे के दौरान मनांथावडी में किसान बैंक के एक भवन का उद्घाटन और सुल्तान बाथेरी में यूडीएफ बहुजन संगमम में शिरकत करेंगे. इसके अलावा भी वह अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड में कई कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे. वह परसो रविवार को कोझीकोड से दिल्ली लौटे आएंगे.

पिछले हफ्ते राहुल के ऑफिस में हुआ था हमला

राहुल गांधी की यह यात्रा ऐसे समय हो रही है जब पिछले हफ्ते कलपेट्टा में उनके ऑफिस पर हमला हो गया था. पिछले सप्ताह कलपेट्टा में राहुल के ऑफिस के पास एसएफआई कार्यकर्ताओं ने विरोध मार्च निकाला था, लेकिन यह उनके ऑफिस पास पहुंचकर हिंसक हो गया था. कार्यकर्ताओं के एक गुट ने राहुल के ऑफिस में घुसकर तोड़फोड़ की थी.

कांग्रेस ने हमले को लेकर सत्तारुढ़ दल पर आरोप लगाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन की जानकारी में स्थानीय सांसद राहुल गांधी के ऑफिस में तोड़फोड़ की गई. मामला बढ़ने पर मुख्यमंत्री विजयन ने आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात कही. साथ ही सरकार की ओर से मामले की उच्च स्तरीय जांच के आदेश भी दिए गए. यही नहीं कलपेट्टा के एक सब-इंस्पेक्टर को भी मामले में ढिलाई बरतने के आरोप में निलंबित कर दिया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *