Sat. Jul 2nd, 2022

 स्किन सोरायसिस त्वचा की वह स्थिति है, जिसमें त्वचा की कोशिकाएं असामान्य स्तर पर बढ़ने लगती हैं। आमतौर पर, कोशिका पुनर्जनन (सेल रीजेनेरेशन- Cell regeneration) होता है और मृत त्वचा कोशिकाओं के साथ संतुलन बनाता है। चूंकि त्वचा की कोशिकाएं असामान्य रूप से विकसित होने लगती हैं और आपकी त्वचा के ऊपर दिखाई देती हैं। जिससे आपको त्वचा पर दरारें और खुजली महसूस होती है। ये स्थिति किसी के लिए भी परेशानी भरी हो सकती है। इसमें राहत पाने के लिए हम कुछ घरेलू नुस्खे (skin psoriasis home remedies) आपके लिए लेकर आए हैं। 

क्या है स्किन सोरायसिस 

 सोरायसिस पर मेयो क्लीनिक की रिपोर्ट के अनुसार यह आम तौर पर घुटनों, कोहनी और कभी-कभी स्कैल्प में होता है। यह हथेलियों, टोरसो और पैरों के तलवों को भी प्रभावित कर सकता है। सोरायसिस, कभी-कभी सोरियाटिक आर्थराइटिस से जुड़ा पाया जा सकता है, जिससे जोड़ों में सूजन और दर्द होता है। ऐसा अनुमान है कि भारत में सोरायसिस से पीड़ित 10 से 30 प्रतिशत लोग सोरियाटिक आर्थराइटिस से भी पीड़ित हैं।

 त्वचा की कोशिकाओं के असामान्य व्यवहार करने के कई कारण हैं। जिसमें से सबसे प्रमुख  है आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली (Immune system) का कमज़ोर होना ।

इस बीमारी की विशेषता है त्वचा की कोशिकाओं का सामान्य विकास की तुलना में 10 गुना अधिक तेजी से बढ़ना। जैसे-जैसे मृत कोशिकाएं त्वचा की सतह तक पहुंचती हैं, उनके इकट्ठे होने  के कारण उभरे हुए लाल प्लाक सफेद स्कल्स से ढक जाते हैं। 

यूं तो इसका कोई  जड़ से इलाज उपलब्ध नहीं है पर इसके शुरुआती समय में अगर ये घरेलू उपचार अपनाए जाएं तो इसमें राहत मिल सकती है: 

1 मॉइस्चराइज़र

यदि आप भी सोरायसिस की वजह खुजली को दूर करने का तरीका खोज रही है, तो हैवी क्रीम का इस्तेमाल करें। पेट्रोलियम जेली या कोई अन्य गाढ़ा मॉइस्चराइज़र आज़माया जा सकता है। यह आपकी त्वचा को ठीक करने और लालिमा कम करने में मदद करने के साथ ही उसे मॉइश्चराइज भी रखता है।

2 सूरज की रोशनी

सनलाइट यानी सूरज की रोशनी आपकी बॉडी को कई रोगों से दूर रखता है। सुबह के समय जब सूरज की गर्मी बहुत तेज़ नहीं होती, तो आउटडोर में कुछ समय बिताएं। सूर्य की पराबैंगनी बी किरणें सोरायसिस से लड़ने में आपकी मदद कर सकती हैं।

दिन में 5 या 10 मिनट का सनटाइम भी आपके सोरायसिस के लिए फायदेमंद रहेगा। सोरायसिस वाले धब्बों पर सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें। बहुत अधिक धूप से बचें यह आपके लिए त्वचा कैंसर के खतरे को बढ़ा सकती है।

3 हल्दी

अध्ययनों से पता चलता है कि हल्दी आपके सोरायसिस फ्लेयर-अप को कम कर सकती है। इसे अपने भोजन में नियमित रूप से शामिल करें।

haldi sabun ke fayde
हल्दी को अपनी डेली डाइट का हिसहिस्सा बना कर इस परेशानी में राहत पाएं  चित्र : शटरस्टॉक

4 टी ट्री ऑयल 

यह पौधा ऑस्ट्रेलिया मूल से आता है, लेकिन सोरायसिस से राहत पाने के लिए आपको इतनी दूर जाने की जरूरत नहीं है। इससे बने शैंपू आपके स्कैल्प पर होने वाले छालरोग यानी सोरायसिस में राहत दे सकते हैं।

5 ध्यान और योग

सोरायसिस के लक्षणों को दूर करने के लिए रोजमर्रा के तनाव को कम करें। ध्यान आपको सोरायसिस बढ़ने से रोकने में मदद कर सकता है। यदि आपको सोरियाटिक गठिया है, तो योग विशेष रूप से सहायक है, क्योंकि यह जोड़ों के दर्द को कम करता है और आपकी गतिसीमा बढ़ाता है।

यह भी पढ़ें:भावनात्मक जुड़ाव जीवन में आगे बढ़ने से रोक रहा हो, तो ये 5 टिप्स आपकी मदद कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.