Sat. Jul 2nd, 2022

Global Liveability Index: इंसान के रहने लिए दुनिया के टॉप-5 शहरों में न तो पेरिस, न्यूयॉर्क है और न ही लंदन. इस लिस्ट में पहली बार कोई यूरोपीय शहर शामिल हुआ है. जानिए, इस इंडेक्स में किन शहरों ने बाजी मारी, कौन पिछड़ा और कैसे तय होता कि शहर रहने लायक है या नहीं…


Jun 24, 2022 | 2:45 PM

TV9 Hindi

| Edited By: अंकित गुप्ता

Jun 24, 2022 | 2:45 PM




इंसान के रहने लिए दुनिया के टॉप-5 शहरों में न तो पेरिस, न्‍यूयॉर्क है और न ही लंदन. इस लिस्‍ट में पहली बार कोई यूरोपीय शहर शामिल हुआ है. रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन द इकोनॉमिस्‍ट इंटेलिजेंस यूनिट (EIU) ने ग्‍लोबल लिवेबिलिटी इंडेक्‍स (Global Liveability Index)  जारी की है. इस इंडेक्‍स के यह पता चलता है कि इंसान के रहने के ल‍िहाज से दुनिया का सबसे बेहतर और सबसे खराब शहर कौन सा है. इंडेक्‍स में सबसे ऊपर शामिल शहर (City) सबसे बेहतर हैं और सबसे नीचे वाले शहर रहने के ल‍िहाज से ठीक नहीं हैं. जानिए, इस इंडेक्‍स में किन शहरों ने बाजी मारी, कौन पिछड़ा और कैसे तय किया जाता है कि कोई शहर रहने लायक है या नहीं…

इंसान के रहने लिए दुनिया के टॉप-5 शहरों में न तो पेरिस, न्‍यूयॉर्क है और न ही लंदन. इस लिस्‍ट में पहली बार कोई यूरोपीय शहर शामिल हुआ है. रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन द इकोनॉमिस्‍ट इंटेलिजेंस यूनिट (EIU) ने ग्‍लोबल लिवेबिलिटी इंडेक्‍स (Global Liveability Index) जारी की है. इस इंडेक्‍स के यह पता चलता है कि इंसान के रहने के ल‍िहाज से दुनिया का सबसे बेहतर और सबसे खराब शहर कौन सा है. इंडेक्‍स में सबसे ऊपर शामिल शहर (City) सबसे बेहतर हैं और सबसे नीचे वाले शहर रहने के ल‍िहाज से ठीक नहीं हैं. जानिए, इस इंडेक्‍स में किन शहरों ने बाजी मारी, कौन पिछड़ा और कैसे तय किया जाता है कि कोई शहर रहने लायक है या नहीं…

इंडेक्‍स के मुताबिक, रहने के लिहाज से ऑस्‍ट्र‍िया (Austria) की राजधानी विएना (Vienna) को दुनिया का सबसे बेहतर शहर बताया गया है. इसे पहले पायदान पर शामिल किया गया है. वहीं, पिछले साल जारी हुई इंडेक्‍स में इसे 12 पायदान पर रखा गया था. इंफ्रास्‍टक्‍चर, हेल्‍थकेयर, कल्‍चर और एंटरटेनमेंट जैसे फैक्‍टर के कारण इसे पहला स्‍थान दिया गया है.

इंडेक्‍स के मुताबिक, रहने के लिहाज से ऑस्‍ट्र‍िया (Austria) की राजधानी विएना (Vienna) को दुनिया का सबसे बेहतर शहर बताया गया है. इसे पहले पायदान पर शामिल किया गया है. वहीं, पिछले साल जारी हुई इंडेक्‍स में इसे 12 पायदान पर रखा गया था. इंफ्रास्‍टक्‍चर, हेल्‍थकेयर, कल्‍चर और एंटरटेनमेंट जैसे फैक्‍टर के कारण इसे पहला स्‍थान दिया गया है.

कैसे तय होता है कि रहने के लिए दुनिया का सबसे बेहतर और सबसे खराब शहर कौन सा है. अब इसे समझते हैं. इस इंडेक्‍स को तैयार करते समय कई बातों का ध्‍यान रखा जाता है. जैसे- किसी देश की पॉलिटिकल स्‍टेबिलिटी, कल्‍चर, एजुकेशन, इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर, पर्यावरण. इनके आधार पर यह बताया जाता है कि कोई शहर किस हद तक रहने लायक है. रैंकिंग के जरिए यह समझाया जाता है.

कैसे तय होता है कि रहने के लिए दुनिया का सबसे बेहतर और सबसे खराब शहर कौन सा है. अब इसे समझते हैं. इस इंडेक्‍स को तैयार करते समय कई बातों का ध्‍यान रखा जाता है. जैसे- किसी देश की पॉलिटिकल स्‍टेबिलिटी, कल्‍चर, एजुकेशन, इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर, पर्यावरण. इनके आधार पर यह बताया जाता है कि कोई शहर किस हद तक रहने लायक है. रैंकिंग के जरिए यह समझाया जाता है.

हाल में जारी हुई लिस्‍ट में दुनिया के 5 सबसे अच्‍छे शहरों में सबसे आगे विएना (ऑस्‍ट्र‍िया) है. इसके बाद कोपेनहेगन (डेनमार्क), ज्‍यूरिख (स्विट्जरलैंड), कलगरी (कनाडा) और वैंकूवर (कनाडा) हैं.

हाल में जारी हुई लिस्‍ट में दुनिया के 5 सबसे अच्‍छे शहरों में सबसे आगे विएना (ऑस्‍ट्र‍िया) है. इसके बाद कोपेनहेगन (डेनमार्क), ज्‍यूरिख (स्विट्जरलैंड), कलगरी (कनाडा) और वैंकूवर (कनाडा) हैं.

इंडेक्‍स से रहने के लिए दुनिया के 5 सबसे खराब शहरों में पड़ोसी देश पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश के शहर भी शामिल हैं. इनमें पहले पायदान पर दमिश्‍क (सीरिया) और इसके बाद लागोस (नाइजीरिया), त्र‍िपोली (लीबिया), कराची (पाकिस्‍तान) और ढाका (बांग्‍लादेश) हैं.

इंडेक्‍स से रहने के लिए दुनिया के 5 सबसे खराब शहरों में पड़ोसी देश पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश के शहर भी शामिल हैं. इनमें पहले पायदान पर दमिश्‍क (सीरिया) और इसके बाद लागोस (नाइजीरिया), त्र‍िपोली (लीबिया), कराची (पाकिस्‍तान) और ढाका (बांग्‍लादेश) हैं.






Most Read Stories


Leave a Reply

Your email address will not be published.