Tue. Feb 7th, 2023
Maharashtra: 'बाण चलाने से पहले धनुष की डोर पीछे खींचनी पड़ती है', पार्टी हित में डिप्टी सीएम का पद स्वीकारने पर राज ठाकरे ने फडणवीस की तारीफ की

राज ठाकरे देवेंद्र फडणवीस (फाइल फोटो)

राज ठाकरे खत में लिखा, ‘धनुष से बाण चलाने से पहले अपने ध्येय को वेधने के लिए डोर पीछे की ओर खींचनी पड़ती है. डोर को इस तरह पीछे खींचने को कोई पीछे खींचना नहीं कहता!’

देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis BJP) ने आज (1 जुलाई, शुक्रवार) मंत्रालय जाकर डिप्टी सीएम पद का अपना कार्यभार संभाल लिया. आज उन्होंने मंत्रालाय पहुंचकर महाराष्ट्र (Maharashtra) के आपदा प्रबंधन विभाग से जुड़ी एक अहम मीटिंग में भाग लिया. इससे पहले उन्होंने मंत्रालय में ही राज्य के मुख्य सचिव के साथ एक अहम मीटिंग की. ओबीसी आरक्षण से जुड़े मुद्दे पर बैठक में चर्चा हुई. देवेंद्र फडणवीस पूर्व मुख्यमंत्री होते हुए भी डिप्टी सीएम का पद स्वीकार करने के लिए तैयार हुए, इस बात को लेकर राजनीतिक गलियारों में कई तरह की चर्चाएं उफान पर हैं. स्वहित की बजाए पार्टी हित का ध्यान रखने के इस फैसले की एमएनएस चीफ राज ठाकरे (Raj Thackeray MNS) ने तारीफ की है. उन्होंने इस संबंध में देवेंद्र फडणवीस को पत्र लिखकर उनका अभिनंदन किया है.

राज ठाकरे ने अपने पत्र में लिखा है, ‘सबसे पहले आपने महाराष्ट्र के उप-मुख्यमंत्री के तौर पर जो जिम्मेदारी स्वीकारी है, उसके लिए आपका हृदय से आभार. ऐसा लग रहा था कि आप महाराष्ट्र के सीएम के तौर पर फिर लौटेंगे. लेकिन ऐसा नहीं हुआ. खैर…’

‘पार्टी हित पहले अपना हित उसके बाद, यह सीख हर पार्टी के लोग रखें याद’

आगे राज ठाकरे ने लिखा, ‘आपने इससे पहले महाराष्ट्र के सीएम के तौर पर 5 साल काम किया. इस बार भी सरकार बनाने के लिए आपने बहुत संघर्ष किया. इसके बावजूद अपने निजी स्वार्थ को दरकिनार करते हुए आपने पार्टी के आदेश को सर माथे पर लिया और उप मुख्यमंत्री का पद स्वीकार किया.पार्टी और पार्टी का आदेश किसी भी व्यक्ति की महात्वाकांक्षा से बड़ा है, यह आपने अपने इस फैसले से दिखा दिया. यह बात देश और राज्य की सभी पार्टियों और संगठन के पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के लिए एक सीख है. अवश्य आप अभिनंदन के पात्र हैं.’

‘बाण चलाने से पहले डोर खींचना, नहीं कहलाता है पीछे हटना’

आगे राज ठाकरे अपने पत्र में लिखते हैं, ‘यह उतार है या चढ़ाव, मैं इस डिबेट में नहीं जाऊंगा. कोई और भी नहीं जाए. लेकिन इतना जरूर कहूंगा कि धनुष से बाण चलाने से पहले अपने ध्येय को वेधने के लिए डोर पीछे की ओर खींचनी पड़ती है. डोर को इस तरह पीछे खींचने को कोई पीछे खींचना नहीं कहता! इस राजनीतिक सफर में आपको अभी बहुत दूर जाना है.’

खत के आखिर में राज ने फडणवीस की योग्यता पर जताया अटूट विश्वास

खत के आखिर में राज ठाकरे ने लिखा है, ‘एक बात तो तय है कि आपने अपने काम से महाराष्ट्र से आगे भी अपना लोहा मनवाया है. इसलिए देश की भलाई के लिए आपको और ज्यादा काम करने का मौका मिले, यही मां जगदम्बा से प्रार्थना करता हूं. एक बार फिर आपका हृदय से अभिनंदन! ‘

ये भी पढ़ें



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *