Tue. Feb 7th, 2023
MP: परिवारवाद का ढोल पीटने वाली बीजेपी में कई नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर, उमा की बहू, विजय शाह के बेटे और केंद्रीय मंत्री का भांजा चुनावी मैदान में

एमपी में पंचायत चुनाव तीन चरणों में होंगे.
(सांकेतिक तस्वीर)

हमेशा से बीजेपी को परिवारवाद का विरोध करते देखा गया है, लेकिन मध्य प्रदेश पंचायत चुनाव में बीजेपी के कई बड़े नेताओं के बेटे-बहू और रिश्तेदार मैदान में है. जिस कारण इस चुनाव में कई नेताओं के लिए प्रतिष्ठा दांव पर है.

मध्य प्रदेश में दो चरण के पंचायत चुनाव (Madhya Pradesh Panchayat Election) हो चुके हैं. दूसरे चरण के चुनाव में 7655 ग्राम पंचायतों में 1 करोड़ 31 लाख 44 हजार 27 मतदाताओं ने वोट डाला. राज्य में अब आखिरी चरण का मतदान होना बाकी है. इसके इतर देखें तो ये पंचायत चुनाव काफी मायनों में खास है. इस चुनाव को खास इसलिए कहा जा रहा है कि हमेशा से बीजेपी को परिवारवाद का विरोध करते देखा गया है, लेकिन इस चुनाव में बीजेपी के कई बड़े नेताओं के बेटे-बहू और रिश्तेदार मैदान में है. कांग्रेस के भी कई दिग्गज नेताओं के सगे संबंधी चुनाव लड़ रहे हैं. इस कारण इस चुनाव में नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है. हालांकि पहले चरण में कई दिग्गज नेताओं के रिश्तेदारों को हार का सामना करना पड़ा है, लिहाजा, नेता अब अपनों के लिए राजनीतिक समीकरण बैठाने में लगे हैं.

पूर्व मुख्यमंत्री का भाई और बहू भी चुनावी रेस में शामिल

प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती के भतीजे और खरगापुर से बीजेपी विधायक राहुल सिंह लोधी की पत्नी उमीता सिंह ने जिला पंचायत के वार्ड नंबर 8 से नामांकन दाखिल किया है. गुना जिले के चाचौड़ा से पूर्व विधायक ममता मीणा और उनके रिटायर्ड आईपीएस पति रघुवीर सिंह मीणा जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रहे हैं. मध्यप्रदेश के राज्यपाल रहे रामनरेश यादव की पौत्रवधु रोशनी यादव निवाड़ी जिले के वार्ड छह से जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रही हैं. वो फिलहाल बीजेपी की
जिला उपाध्यक्ष हैं.

मंत्री विजय शाह के बेटे भी मैदान में

राज्य सरकार के कैबिनेट मंत्री विजय शाह के बेटे दिव्यादित्य भी चुनाव लड़ रहे हैं. दिव्यादित्य खंडवा जिला पंचायत के वार्ड 14 से चुनाव लड़ रहे हैं. मंडला जनपद पंचायत के वार्ड एक से केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते के भांजे प्रदीप पट्टा चुनाव मैदान में हैं. वहीं बड़वानी से वार्ड 2 से मंत्री प्रेम सिंह के बेटे बलवंत लड़ रहे हैं. यहीं से पूर्व मंत्री अंतर सिंह आर्य की बहू कविता विकास आर्य मैदान में हैं.

पूर्व सांसद की पत्नी, बेटी और बहू लड़ रही हैं चुनाव

डिंडोरी में पूर्व मंत्री ओमप्रकाश धुर्वे की पत्नी ज्योति कुमार धुर्वे जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़ रही हैं. भिंड में पूर्व विधायक नरेंद्र कुशवाह की पत्नी मिथलेश जिपं सदस्य के लिए मैदान में हैं. बुरहानपुर में विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा की पत्नी जयश्री सिंह जिला पंचायत सदस्य के लिए लड़ रही हैं. हालांकि उनकी बेटी लयश्री और बहू अभिलाषा ठाकुर पहले चरण में हार चुकी हैं. इसी के ही साथ पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमारिया की बहू ममता रानी दमोह जिले में सरपंच का चुनाव लड़ रही हैं. बीजेपी के पूर्व सांसद चंद्रभान सोलंकी की पत्नी जानकी, बेटी नीतू, बहू काजल कृष्णा सिंह भी जिपं सदस्य के लिए मैदान में हैं.

ये भी पढ़ें



कांग्रेस में नेताओं की प्रतिष्ठा लगी दांव पर

पानसेमल से कांग्रेस विधायक चंद्रभागा किराड़े के भतीजे संजय सरपंच का चुनाव लड़ रहे हैं. कांग्रेस से विधानसभा चुनाव हारे रामकिशन पटेल भी सदस्य का चुनाव लड़ रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *