Mon. Jan 30th, 2023
Pathology Career Salary: मेडिकल के क्षेत्र में बेहतरीन करियर ऑप्शन है पैथोलॉजी, जानिए कैसे बनें पैथोलॉजिस्ट? कर सकते हैं मोटी कमाई

पैथोलॉजी में करियर कैसे बनाएं? पैथोलॉजिस्ट कैसे बन सकते हैं?

Image Credit source: Pixabay.com

Pathology Career Path in Hindi: मेडिकल या हेल्थ सेक्टर में तेजी से तरक्की करने के लिए पैथोलॉजी एक शानदार करियर ऑप्शन है. आप पैथोलॉजिस्ट कैसे बन सकते हैं? इसके लिए NEET Exam जरूरी है या नहीं? योग्यता से लेकर, कोर्स, जॉब, सैलरी की पूरी डीटेल इस आर्टिकल में पढ़िए…

Pathologist Careers Salary Detail in Hindi: मौजूदा वक्त में हेल्थ केयर तेजी से ग्रोथ करने वाला ऐसा सेक्टर है जिसमें कभी भी मंदी का दौर नहीं आता है. इसीलिए इस सेक्टर में युवाओं की मांग और उनके लिए अवसर भी बढ़ गए हैं. हेल्थ सेक्टर में कई विभाग हैं. इनमें से एक सदाबहार फील्ड है पैथोलॉजी (Pathology Career), जिसमें डिमांड कभी खत्म नहीं होती. यह क्षेत्र रोगों की बुनियादी समझ और निदान में सुधार करने में मदद करता है. आप इस क्षेत्र में करियर की संभावनाएं तलाश (Career Options) सकते हैं. इसका दायरा बहुत बड़ा है और इस वजह से करियर बनाने और तरक्की के खूब अवसर मिलते हैं. अगर आप पैथोलॉजी में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो इसके बारे में जान लें. यह आर्टिकल आपकी मदद करेगा.

What is Pathology? पैथोलॉजी क्या है?

पैथोलॉजी मेडिकल फील्ड की ब्रांच है जिसमें किसी बीमारी के कारणों का पता लगाने के लिए अलग-अलग तरह के टेस्ट किए जाते हैं. किसी बीमारी के उपचार के लिए जांच बेहद जरूरी है. पैथोलॉजी में कई तरह के टेस्ट करने के तरीकों के बारे में बताया जाता है. रिसर्च बेस्ड फील्ड होने की वजह से पैथोलॉजी कोर्स में प्रैक्टिकल अधिक कराया जाता है.

पैथोलॉजी के दो प्रकार हैं: क्लिनिकल पैथोलॉजी और एनाटॉमिकल पैथोलॉजी. क्लिनिकल पैथोलॉजी (Clinical Pathology) में ब्लड या यूरिन सहित कई तरह के जांच किए जाते हैं. एनाटॉमिकल पैथोलॉजी (Anatomical Pathology) में माक्रोस्कोपिक लेवल पर बॉडी टेस्ट किया जाता है. इसमें टिश्यू और हड्डियों की जांच की जाती है.

Pathologist Work Profile: पैथोलॉजिस्ट का काम

पैथोलॉजिस्ट का मुख्य काम अलग-अलग तरह के जांच करना होता है. वह किसी विशेष बीमारी के कारण की जांच करने के बाद संबंधित डॉक्टरों को दवा और इलाज के बारे में अपनी रिपोर्ट देता है. पैथोलॉजिस्ट मानव रोगों का पता लगाने के लिए टेस्ट करते हैं. आमतौर पर अन्य चिकित्सकों के परामर्शदाता के रूप में कार्य करते हैं, और इस प्रकार रोगियों की देखभाल में योगदान देते हैं.

Pathologist Eligibility and Skills

पैथोलॉजिस्ट बनने के लिए उम्मीदवार का फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी बैकग्राउंड (PCB) का होना आवश्यक है. देशभर में कई मेडिकल कॉलेज और यूनिवर्सिटी इसके कोर्स कराते हैं. इसके लिए साइंस विषयों के साथ कक्षा 12वीं पास होना अनिवार्य है. कोर्स करने के बाद आप पैथोलॉजिस्ट बन सकते हैं.

एमबीबीएस (MBBS) कोर्स करने के बाद पैथोलॉजिस्ट बनने के लिए पैथोलॉजी, बायोकेमिस्ट्री, क्लीनिकल बायोकेमिस्ट्री या माइक्रोबायोलॉजी में एमडी या बायोकेमिस्ट्री में डीएनबी करना आवश्यक है. आप चाहें तो, एमबीबीएस कंप्लीट करने के बाद पैथोलॉजी में एमडी कर सकते हैं. एमडी तीन साल का होता है. इसके अलावा अगर आप चाहें तो दो साल का पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा प्रोग्राम भी कर सकते हैं.

पैथोलॉजिस्ट बनने के लिए साफ और सटीक कमेंट देना आवश्यक है. उनमें मौखिक व लिखित तौर पर विचारों को व्यक्त करने की क्षमता, क्रिटिकल थिंकिंग, रोगियों के प्रति सेवा भावना, धैर्य और रिसर्च में रुचि होना जरूरी है. इन गुणों के आधार पर पैथोलॉजिस्ट अपने करियर में तरक्की पाता है.

Pathology Career Scope

आजकल पैथोलॉजिस्ट के लिए करियर की अपार संभावनाएं हैं. इस फील्ड में कोर्स करने के बाद अस्पतालों के अलावा लैब्स, मेडिकल कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में जॉब के अवसर मिलते हैं. सैन्य और सरकारी एजेंसियों में जैसे कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान और सशस्त्र बल पैथोलॉजी संस्थान में भी जॉब के अवसर हैं. दवाएं बनाने वाली कंपनियां भी पैथोलॉजिस्ट नियुक्त करती हैं. इतना ही नहीं, आप खुद की डायग्नोस्टिक लैबोरेटरी खोल (Pathology Labs) सकते हैं.

Pathology Top Courses

पैथोलॉजिस्ट बनने के लिए आपको पैथोलॉजी की पढ़ाई करनी होती है. मेडिकल क्षेत्र में पैथोलॉजी बहुत ही अहम भूमिका निभाती है. इसलिए इसकी अलग से पढ़ाई कराई जाती है. आज पैथोलॉजी के कई सारे कोर्स उपलब्ध हैं. आप इनमें से कोई भी कोर्स करके पैथोलॉजिस्ट बन सकते हैं. बीएससी इन पैथोलॉजी (BSc in Pathology), बैचलर इन मेडिकल लैब टेक्नीशियन और डिप्लोमा इन मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी (Diploma in Medical Laboratory Technology) यानी DMLT कुछ पॉपुलर कोर्स हैं. इस फील्ड में MD कोर्स भी एमबीबीएस करने के बाद किया जा सकता है.

Pathologist Salary

पैथोलॉजिस्ट की सैलरी उनके अनुभव के आधार पर बढ़ती है. करियर की शुरुआत में मासिक सैलरी 25,000 से 35,000 के बीच हो सकती है. कुछ सालों के अनुभव के बाद प्राइवेट सेक्टर में 60-70 हजार रुपये प्रतिमाह तक आसानी से मिल जाते हैं. अगर आप अपना लैब खोलते हैं, तो आसानी से मोटी कमाई कर सकते हैं.

Pathology Top Colleges in India

  • मगध यूनिवर्सिटी, बोधगया
  • जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी, नई दिल्ली
  • कालीकट यूनिवर्सिटी
  • कानपुर यूनिवर्सिटी
  • क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर (CMC Vellore)
  • सेंट जॉन्स मेडिकल कॉलेज, बंगलौर
  • ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ़ मेडिकल साइंस, नई दिल्ली (AIIMS)
  • जवाहरलाल इंस्टीट्यूट ऑफ पोस्ट ग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च, पुडुचेरी (JIPMER)
  • त्रिपुरा मेडिकल कॉलेज एंड डॉ बीआर अंबेडकर मेमोरियल टीचिंग हॉस्पिटल, अगरतला
  • नारायण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, बिहार
  • लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज, नई दिल्ली
  • कस्तूरबा मेडिकल कॉलेज, कर्नाटक
  • मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज, नई दिल्ली

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *