Tue. Feb 7th, 2023


बिहार के कई जिलों में बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं. अब कोई ऐसा क्षेत्र नहीं बचा है, जिसे बारिश की बौछारों ने न भिगोया हो. कोसी और महानंदा के बाद बीते 24 घंटे में बागमती और कमला बलान भी खतरे के निशान के पार हो गई.

TV9 Hindi


| Edited By: दिव्यांश रस्तोगी

Jun 30, 2022 | 4:56 PM




नेपाल के तराई इलाकों और उत्तर बिहार में हो रही बारिश (Heavy Rain) के कारण राज्य की नदियों में उफान है. ऐसे में बिहार के कई जिलों में बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं. कोसी और महानंदा के बाद बीते 24 घंटे में बागमती और कमला बलान भी खतरे के निशान के पार हो गई. अगले 24 से 48 घंटे में बागमती, अधवारा, गंडक के भी खतरे के निशान के पार होने का अनुमान है. यही नहीं कोसी, महानंदा कई और स्थानों पर खतरे के निशान के पार होगी. गोपालगंज में गंडक नदी का जलस्तर बढ़ गया है. उधर, भारी बारिश के चलते सड़कें, पुलिस थानों और लोगों के घरों में जलभराव की स्थिति बनी हुई है. लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त बना हुआ है. वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राज्य में अगले सात दिनों तक दक्षिण-पश्चिम मानसून के सक्रिय रहने के आसार हैं. अब कोई ऐसा क्षेत्र नहीं बचा है, जिसे बारिश की बौछारों ने न भिगोया हो. अगले 24 घंटे में भी भारी से भारी बारिश की आशंका है.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *